क्या आप मानते हैं कि ब्रह्मांड में आत्माएं नहीं सिर्फ परमात्मा हैं?...


user

ज्योतिषी झा मेरठ (Pt. K L Shashtri)

खगोलशास्त्री ज्योतिषी झा मेरठ,झंझारपुर और मुम्बई

1:04
Play

Likes  77  Dislikes    views  2581
WhatsApp_icon
23 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बिल्कुल सही परमात्मा एक है ब्रह्मांड में जितने भी आत्माएं विचरण करते हैं वह परमात्मा की कृपा से विचरण करती हैं एकात्म आपके शरीर मन के अंदर भी है वह मन जो है वह ईश्वर अंश जीव अविनाशी चेतन अमल सहज सुख राशि किस प्रकार जब यहां से जो आत्माएं शरीर को छोड़कर के ऊपर जाती हैं तो उन आत्माओं के कार्यों का विभाजन होता है कार्यों का मंथन होता है और कार्यों के हिसाब से उनको योनि में जाना है उसका निर्धारण परमात्मा करते हैं परमात्मा ज्ञानी बहुत सारे विभाग बने हुए हैं किस कार्य के लिए उनको कौन-कौन सा शरीर देना है कहते हैं ना कि वासांसि जीर्णानि यथा विहाय नवाजुद्दीन रोपण किस प्रकार से शरीर जो है कपड़े पुराने होने पर उन्हें छोड़ देता है उसी प्रकार की आत्मा शरीर को पुराना होने पर छोड़ दो से निकल कर के जो आत्मा जाती हैं कोई सरकारी अंश होते हैं लेकिन उन्होंने धर्म के हिसाब से तेरी बिच्छू बन जाए तेरी गाय बने कहीं बैल बने या कोई ऐसी मदद करो 8400000 योनियों में से कोई सी भी उनको मिल सकते उनके कर्मों के साथ दुष्कर्म करेंगे तभी मनुष्य बनेंगे और मन से बंद कर ली उन्होंने पिछले कर्मों का जो भोग भोगने के लिए आना पड़ेगा

bilkul sahi paramatma ek hai brahmaand me jitne bhi aatmaen vichran karte hain vaah paramatma ki kripa se vichran karti hain ekatm aapke sharir man ke andar bhi hai vaah man jo hai vaah ishwar ansh jeev avinashi chetan amal sehaz sukh rashi kis prakar jab yahan se jo aatmaen sharir ko chhodkar ke upar jaati hain toh un atmaon ke karyo ka vibhajan hota hai karyo ka manthan hota hai aur karyo ke hisab se unko yoni me jana hai uska nirdharan paramatma karte hain paramatma gyani bahut saare vibhag bane hue hain kis karya ke liye unko kaun kaun sa sharir dena hai kehte hain na ki vasansi jirnani yatha vihay nawazuddin ropan kis prakar se sharir jo hai kapde purane hone par unhe chhod deta hai usi prakar ki aatma sharir ko purana hone par chhod do se nikal kar ke jo aatma jaati hain koi sarkari ansh hote hain lekin unhone dharm ke hisab se teri bichhoo ban jaaye teri gaay bane kahin bail bane ya koi aisi madad karo 8400000 yoniyon me se koi si bhi unko mil sakte unke karmon ke saath dushkarm karenge tabhi manushya banenge aur man se band kar li unhone pichle karmon ka jo bhog bhogane ke liye aana padega

बिल्कुल सही परमात्मा एक है ब्रह्मांड में जितने भी आत्माएं विचरण करते हैं वह परमात्मा की कृ

Romanized Version
Likes  227  Dislikes    views  1871
WhatsApp_icon
user

DR OM PRAKASH SHARMA

Principal, Education Counselor, Best Experience in Professional and Vocational Education cum Training Skills and 25 years experience of Competitive Exams. 9212159179. dsopsharma@gmail.com

1:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने कहा क्या मानते हैं कि ब्रह्मांड में आत्मा ही नहीं से परमात्मा अरे श्रीमान जी जो परमात्मा है वही परमात्मा है सर्वश्रेष्ठ आत्माओं को ब्रह्मांड में स्थान मिलता है क्योंकि जो परमात्मा है अर्थात ईश्वर है उसे सच्ची को संचालन करने के लिए महान आत्माओं की जरूरत होती है और ईश्वर जो है उन आत्माओं को इस सृष्टि के संचालन के लिए विभिन्न विभागों में कार्य करने के लिए देता है ब्रह्मा विष्णु महेश के तीन प्रमुख शक्तियां शेट्टी के जन्मदाता सस्ती के संचालक और सृष्टि के संग आरक उनके दरबार में हजारों परमात्मा vid9 हर बात में वही है जिन्होंने इस पृथ्वी लोक पर महा निकारी हो ऋषि मुनि राजा महाराजा वह तपस्वी को मर्यादा पालक पालक गुस्सा ब्रह्मांड की शोभा बढ़ाते

aapne kaha kya maante hain ki brahmaand me aatma hi nahi se paramatma are shriman ji jo paramatma hai wahi paramatma hai sarvashreshtha atmaon ko brahmaand me sthan milta hai kyonki jo paramatma hai arthat ishwar hai use sachi ko sanchalan karne ke liye mahaan atmaon ki zarurat hoti hai aur ishwar jo hai un atmaon ko is shrishti ke sanchalan ke liye vibhinn vibhagon me karya karne ke liye deta hai brahma vishnu mahesh ke teen pramukh shaktiyan shetty ke janmadata sasti ke sanchalak aur shrishti ke sang arak unke darbaar me hazaro paramatma vid9 har baat me wahi hai jinhone is prithvi lok par maha nikari ho rishi muni raja maharaja vaah tapaswi ko maryada paalak paalak gussa brahmaand ki shobha badhate

आपने कहा क्या मानते हैं कि ब्रह्मांड में आत्मा ही नहीं से परमात्मा अरे श्रीमान जी जो परमात

Romanized Version
Likes  423  Dislikes    views  4481
WhatsApp_icon
user

Dharamvir singh

Serviceman Indian Army

4:37
Play

Likes  80  Dislikes    views  1712
WhatsApp_icon
user

Dinesh Mishra

Theosophists | Accountant

1:40
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्या आप मानते हैं कि ब्रह्मांड में आत्माएं नहीं सिर्फ परमात्मा है देखिए जो परमात्मा है ब्रह्मांड में परमात्मा भी हुआ करता है और आत्मा भी हुआ करती है इन्हीं कारणों से आत्मा भटक गई है यद्यपि वह परमात्मा से मिलना चाहती है परमात्मा पूर्ण है आत्मा उनकी अंशी हुआ करती है इस प्रकार से ब्रह्मांड में और शरीर में आत्मा और शरीर हुआ करता है उधमपुर पूरे ब्रह्मांड में परमात्मा हुआ करता है और आत्मा भी हुआ करती हैं परमात्मा के आदेश अनुसार आत्माएं शरीरों में प्रवेश किया करती है

kya aap maante hain ki brahmaand me aatmaen nahi sirf paramatma hai dekhiye jo paramatma hai brahmaand me paramatma bhi hua karta hai aur aatma bhi hua karti hai inhin karanon se aatma bhatak gayi hai yadyapi vaah paramatma se milna chahti hai paramatma purn hai aatma unki anshi hua karti hai is prakar se brahmaand me aur sharir me aatma aur sharir hua karta hai udhampur poore brahmaand me paramatma hua karta hai aur aatma bhi hua karti hain paramatma ke aadesh anusaar aatmaen shariron me pravesh kiya karti hai

क्या आप मानते हैं कि ब्रह्मांड में आत्माएं नहीं सिर्फ परमात्मा है देखिए जो परमात्मा है ब्

Romanized Version
Likes  208  Dislikes    views  920
WhatsApp_icon
user

Isu Vasava

PASTOR in CHURCH.

0:22
Play

Likes  206  Dislikes    views  2685
WhatsApp_icon
user

Dr.Manoj kumar Pandey

M.D (A.M) ,Astrologer ,9044642070

2:40
Play

Likes  58  Dislikes    views  874
WhatsApp_icon
user

Loan Guru

Financial Expert

0:29
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल बहुत सही है क्या आप मानते हैं कि ब्रह्मांड में आत्मा नहीं सिर्फ परमात्मा परमात्मा ही है जिससे कि ब्रह्मांड की उत्पत्ति हुई है परमात्मा से ब्रह्मांड ब्रह्मांड से आकाश और आकाश से पृथ्वी पृथ्वी में मनुष्य जिस प्रकार से ही शब्द कर्म चला है उस प्रकार से ही परमात्मा ही समय समाया हुआ है उसी ने प्रकृति की है आत्मा ही है जो संसार को चला रही है परमात्मा परम आनंद है वही संसार को मैनेज करते हैं

aapka sawaal bahut sahi hai kya aap maante hain ki brahmaand me aatma nahi sirf paramatma paramatma hi hai jisse ki brahmaand ki utpatti hui hai paramatma se brahmaand brahmaand se akash aur akash se prithvi prithvi me manushya jis prakar se hi shabd karm chala hai us prakar se hi paramatma hi samay samaya hua hai usi ne prakriti ki hai aatma hi hai jo sansar ko chala rahi hai paramatma param anand hai wahi sansar ko manage karte hain

आपका सवाल बहुत सही है क्या आप मानते हैं कि ब्रह्मांड में आत्मा नहीं सिर्फ परमात्मा परमात्म

Romanized Version
Likes  64  Dislikes    views  1131
WhatsApp_icon
user

Rajkumar

Astrologer

0:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखे जितने भी आत्माएं हैं सब परमात्मा से निकली हुई है ब्रह्मांड में परमात्मा भी है और आत्माएं भी है परमात्मा का अंश है आत्मा है और यह जो है ब्रह्मांड ब्रह्मांड में प्रत्येक जीव में प्रत्येक प्राणी में पेड़ में पौधे में पूरी सृष्टि में वोट स्रोत है जय श्री राम

dekhe jitne bhi aatmaen hain sab paramatma se nikli hui hai brahmaand me paramatma bhi hai aur aatmaen bhi hai paramatma ka ansh hai aatma hai aur yah jo hai brahmaand brahmaand me pratyek jeev me pratyek prani me ped me paudhe me puri shrishti me vote srot hai jai shri ram

देखे जितने भी आत्माएं हैं सब परमात्मा से निकली हुई है ब्रह्मांड में परमात्मा भी है और आत्म

Romanized Version
Likes  57  Dislikes    views  1116
WhatsApp_icon
user

Pramod Kushwaha

famous Motivational Guru N Painter

0:19
Play

Likes  61  Dislikes    views  1241
WhatsApp_icon
play
user

Dr.Nisha Joshi

Psychologist

0:27

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

छपरा से क्या मानते कि ब्रह्मांड में आत्माएं नहीं सिर्फ परमात्मा है ब्रह्मांड में तो सब कुछ माने तो सब कुछ नहीं मारे तो कुछ भी नहीं मैंने कहा ब्रह्मांड देखा है और चंद्र से

chapra se kya maante ki brahmaand mein aatmaen nahi sirf paramatma hai brahmaand mein toh sab kuch maane toh sab kuch nahi maare toh kuch bhi nahi maine kaha brahmaand dekha hai aur chandra se

छपरा से क्या मानते कि ब्रह्मांड में आत्माएं नहीं सिर्फ परमात्मा है ब्रह्मांड में तो सब कुछ

Romanized Version
Likes  226  Dislikes    views  7477
WhatsApp_icon
user

Karan Janwa

Automobile Engineer

1:45
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नहीं जब परमात्मा होता है उसका अर्थ है टोटल जिससे पर कुछ ना हो तो दुनिया में तुझे बसा है उसको भी रो कहते हैं परमात्मा का मतलब समग्र जितना भी है कि कोई बर्तन बर्तन के अंदर पानी भरा हुआ है तो पानी की जितनी भी बोलते हैं सारी बूंदे परमात्मा है और जैसे हम फनी को खाली कर देंगे फिर जो बच्चे का वह जो होगा यूनिवर्स में जितने भी दिख रहा है अपने को पेड़ पौधे चिड़िया जीव जंतु आकाश अरे हम इंसान हमसे मिलकर मतलब टोटल टोटलिटी जितनी भी है किसी को मत छोड़ना किसी को मत छोड़ना अरे इंसान की आत्मा से मिलकर बना होता है एक लड़के ने टेबल कुर्सी आंखें और ब्लैक बोर्ड टीचर किताबें और यह सब है तो यह सब मिलकर परमात्मा परमात्मा टोटल हम इंसान अलग-अलग कंपनी भी परमात्मा का रूप है यह पत्थर भी परमात्मा का रूप है लेकिन हम परमात्मा के सर्वश्रेष्ठ ग्रुप है

nahi jab paramatma hota hai uska arth hai total jisse par kuch na ho toh duniya mein tujhe basa hai usko bhi ro kehte hain paramatma ka matlab samagra jitna bhi hai ki koi bartan bartan ke andar paani bhara hua hai toh paani ki jitni bhi bolte hain saree bundein paramatma hai aur jaise hum Funny ko khaali kar denge phir jo bacche ka vaah jo hoga Universe mein jitne bhi dikh raha hai apne ko ped paudhe chidiya jeev jantu akash are hum insaan humse milkar matlab total totliti jitni bhi hai kisi ko mat chhodna kisi ko mat chhodna are insaan ki aatma se milkar bana hota hai ek ladke ne table kursi aankhen aur black board teacher kitaben aur yah sab hai toh yah sab milkar paramatma paramatma total hum insaan alag alag company bhi paramatma ka roop hai yah patthar bhi paramatma ka roop hai lekin hum paramatma ke sarvashreshtha group hai

नहीं जब परमात्मा होता है उसका अर्थ है टोटल जिससे पर कुछ ना हो तो दुनिया में तुझे बसा है उस

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  319
WhatsApp_icon
user

Bk soni

Rajyoga Teacher

1:27
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बहुत अच्छा प्रश्न है कि क्या मानते हैं कि ब्रह्मांड में आत्मा ही नहीं श्री परमात्मा नहीं ब्रह्मांड में हम आत्माओं के साथ-साथ परमात्मा भी रहता है जैसे देखिए वृक्ष है तो पहले नीचे बीज होता है बाद में टनाटन टालिया होती है इसी तरह से उल्टा विक्स परमधाम में है ब्रह्मांड में है और ब्रह्मांड में उल्टा वृक्ष है माना इस सृष्टि रूपी वृक्ष का परमपिता परमात्मा बीज है और बच्चे हुए टाल तालियों के रूप में फूल फल के रूप में हम सब आत्माएं हैं ऐसे सारे धर्म की आत्माएं वहां ही रहती हैं इसके बारे में अधिक जानकारी के लिए आप अपने घर के नजदीक की सेवा केंद्र का सेवा केंद्र पर जाकर 7 दिन का निशुल्क को लेकर अधिक जानकारी ले सकते हैं आपके नजदीकी सेवा केंद्र का एड्रेस पता लेने के लिए गूगल पर आप brahmakumaris.com टाइप करेंगे और अपना एड्रेस टाइप करेंगे तो आपको अपने घर का नजदीकी सेवा केंद्र का पता मिल जाएगा आशा है कि आप 7 दिन का कोर्स लेंगे तो आपको बहुत लाभ होंगे और इसके बारे में और भी ज्यादा आपको जानकारी मिल जाएगी

bahut accha prashna hai ki kya maante hain ki brahmaand mein aatma hi nahi shri paramatma nahi brahmaand mein hum atmaon ke saath saath paramatma bhi rehta hai jaise dekhiye vriksh hai toh pehle niche beej hota hai baad mein tanatan taliya hoti hai isi tarah se ulta vicks paramadham mein hai brahmaand mein hai aur brahmaand mein ulta vriksh hai mana is shrishti rupee vriksh ka parampita paramatma beej hai aur bacche hue tal taliyon ke roop mein fool fal ke roop mein hum sab aatmaen hain aise saare dharm ki aatmaen wahan hi rehti hain iske bare mein adhik jaankari ke liye aap apne ghar ke nazdeek ki seva kendra ka seva kendra par jaakar 7 din ka nishulk ko lekar adhik jaankari le sakte hain aapke najdiki seva kendra ka address pata lene ke liye google par aap brahmakumaris com type karenge aur apna address type karenge toh aapko apne ghar ka najdiki seva kendra ka pata mil jaega asha hai ki aap 7 din ka course lenge toh aapko bahut labh honge aur iske bare mein aur bhi zyada aapko jaankari mil jayegi

बहुत अच्छा प्रश्न है कि क्या मानते हैं कि ब्रह्मांड में आत्मा ही नहीं श्री परमात्मा नहीं ब

Romanized Version
Likes  36  Dislikes    views  660
WhatsApp_icon
user

M S Aditya Pandit

Entrepreneur | Politician

0:43
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सवाल तो अनंत है जितने भी आंसर दो काम है बट मेरे से सजेशन है क्या पैसे सवालों से बचने की कोशिश कीजिए अपना ध्यान खुद को डिवेलप करने में लगाएं जिससे आपका विकर्ष आपको ज्यादा कुछ देने तो खुद को ध्यान में मम्मी के वहां से आपको अच्छी चीजें मिलेंगे खुद ही मालूम चल जाएगा कि आप सकारात्मक रूप से कहां के हो हर चीज का जोड़ा हमारी मन मस्तिक से होते तो बस उसको समझने की कोशिश कीजिए बाकी आपको आराम से सारा चीज मिल जाएगा जो भी आपको प्रश्न है खुद को इस कीजिए

sawaal toh anant hai jitne bhi answer do kaam hai but mere se suggestion hai kya paise sawalon se bachne ki koshish kijiye apna dhyan khud ko develop karne mein lagaye jisse aapka vikarsh aapko zyada kuch dene toh khud ko dhyan mein mummy ke wahan se aapko achi cheezen milenge khud hi maloom chal jaega ki aap sakaratmak roop se kahaan ke ho har cheez ka joda hamari man mastisk se hote toh bus usko samjhne ki koshish kijiye baki aapko aaram se saara cheez mil jaega jo bhi aapko prashna hai khud ko is kijiye

सवाल तो अनंत है जितने भी आंसर दो काम है बट मेरे से सजेशन है क्या पैसे सवालों से बचने की को

Romanized Version
Likes  244  Dislikes    views  3365
WhatsApp_icon
user

Daivagya Krishna Shastri

Astrologer, Ved, Bhagvat Mahapuran

0:32
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जय श्री राधे कृष्णा ब्रह्मांड में आत्मा और परमात्मा दोनों का सम्मेलन है और इसीलिए बाबा कहते हैं ईश्वर अंश जीव अविनाशी एक जीवात्मा और परमात्मा का प्रतिपादन किया गया है जब वह जीव उत्तम कर्म करता है तो याद गत्वा नहीं बर्तन तथा मरम्मत वही जो परमात्मा के स्वरूप को प्राप्त कर जाता है इसलिए ब्रह्मांड में आत्माएं भी हैं और परमात्मा भी है श्री राधे श्यामा

jai shri radhe krishna brahmaand mein aatma aur paramatma dono ka sammelan hai aur isliye baba kehte hain ishwar ansh jeev avinashi ek jivaatma aur paramatma ka pratipadan kiya gaya hai jab vaah jeev uttam karm karta hai toh yaad gatwa nahi bartan tatha marammat wahi jo paramatma ke swaroop ko prapt kar jata hai isliye brahmaand mein aatmaen bhi hain aur paramatma bhi hai shri radhe shyaama

जय श्री राधे कृष्णा ब्रह्मांड में आत्मा और परमात्मा दोनों का सम्मेलन है और इसीलिए बाबा कहत

Romanized Version
Likes  122  Dislikes    views  1643
WhatsApp_icon
user

Harish Chand

Social Worker

0:50
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्या आप मानते हैं कि ब्रह्मांड में आत्माएं नहीं सिर्फ परमात्मा है नहीं मिल आपको बता दूं इस ब्रह्मांड के कण-कण में परमात्मा विराजमान है और जो आत्माएं हैं वह परमात्मा में विलीन हो जाती जो अच्छे कर्म करती है वह को प्राप्त करके परमात्मा में विलीन हो जाती हैं और जिनके कार्य शेष रह जाते हैं वह अपने जन्म लेकर के अपने कार्य को पूरा करने के लिए अवतरित होती रहती हैं ठीक है मित्रों जय हिंद

kya aap maante hain ki brahmaand me aatmaen nahi sirf paramatma hai nahi mil aapko bata doon is brahmaand ke kan kan me paramatma viraajamaan hai aur jo aatmaen hain vaah paramatma me vileen ho jaati jo acche karm karti hai vaah ko prapt karke paramatma me vileen ho jaati hain aur jinke karya shesh reh jaate hain vaah apne janam lekar ke apne karya ko pura karne ke liye avtarit hoti rehti hain theek hai mitron jai hind

क्या आप मानते हैं कि ब्रह्मांड में आत्माएं नहीं सिर्फ परमात्मा है नहीं मिल आपको बता दूं इस

Romanized Version
Likes  124  Dislikes    views  1555
WhatsApp_icon
user

Ghanshyamvan

मंदिर सेवा

0:40
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जैसे रिमांड में सूर्य एक है उसकी ज्योति सर्वत्र व्याप्त है इसी तरह निर्माण में परमात्मा एक है और उनकी आत्माएं व्याप्त है भगवान से यही आत्माएं उत्पन्न होती हैं और भगवान में लीन हो जाती है जैसे सूर्य के प्रकाश उत्पन्न होता है और अंधकार छा जाने पर वह सूर्य में ही विलीन हो जाता है ऐसे ही परमात्मा और आत्मा का संबंध है

jaise remand mein surya ek hai uski jyoti sarvatra vyapt hai isi tarah nirmaan mein paramatma ek hai aur unki aatmaen vyapt hai bhagwan se yahi aatmaen utpann hoti hain aur bhagwan mein Lean ho jaati hai jaise surya ke prakash utpann hota hai aur andhakar cha jaane par vaah surya mein hi vileen ho jata hai aise hi paramatma aur aatma ka sambandh hai

जैसे रिमांड में सूर्य एक है उसकी ज्योति सर्वत्र व्याप्त है इसी तरह निर्माण में परमात्मा एक

Romanized Version
Likes  74  Dislikes    views  3042
WhatsApp_icon
user

BK Kalyani

Teacher On Rajyoga Spiritual Knowledge

1:33
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बहुत अच्छी क्वेश्चन है आपका क्या आप मानते हैं कि ब्रह्मांड में आत्मा नहीं परमात्मा ब्रह्मांड में परमात्मा भी है ब्रह्मांड में यह दुनिया जब तक अंत नहीं हो जाती है और फिर से यह रिकवर नहीं करते यानी यानी शुरुआत पतियों के स्टार्टिंग जब तक नहीं होती है तब तक ब्रह्मांड में अभी भी कुछ आत्माएं परमात्मा के साथ है जो वह इस धरती पर आ रही है पाठ बचाने और आते रहेंगे जब तक इस सृष्टि के बिना और नई सृष्टि के आरंभ नहीं होती है तब तक वह ब्रह्मांड से आत्मा आते ही नहीं कि मैं मानती हूं परमात्मा और आत्मा ब्रह्मांड में पर परमात्मा अभी धरती पर अवतरित हो चुके हैं अपने बच्चों को सतयुग में ले जाने के लिए मनुष्य देवता बनाने के लिए सतोगुण धारण कराने के लिए पति से पावन बनाने के लिए और नर से नारायण नारी से लक्ष्मी बनाने के लिए प्रजापिता ब्रह्मा के तन में अवतरित हो चुके अधिक जानकारी के लिए आप गूगल पर सर्च करें डब्लू डब्लू डॉट कॉम प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय में राजयोग मेडिटेशन 4 दिन के निशुल्क दी जाती डिटेल मिल जाएगी

bahut achi question hai aapka kya aap maante hain ki brahmaand me aatma nahi paramatma brahmaand me paramatma bhi hai brahmaand me yah duniya jab tak ant nahi ho jaati hai aur phir se yah recover nahi karte yani yani shuruat patiyon ke starting jab tak nahi hoti hai tab tak brahmaand me abhi bhi kuch aatmaen paramatma ke saath hai jo vaah is dharti par aa rahi hai path bachane aur aate rahenge jab tak is shrishti ke bina aur nayi shrishti ke aarambh nahi hoti hai tab tak vaah brahmaand se aatma aate hi nahi ki main maanati hoon paramatma aur aatma brahmaand me par paramatma abhi dharti par avtarit ho chuke hain apne baccho ko satayug me le jaane ke liye manushya devta banane ke liye satogun dharan karane ke liye pati se paavan banane ke liye aur nar se narayan nari se laxmi banane ke liye prajapita brahma ke tan me avtarit ho chuke adhik jaankari ke liye aap google par search kare w w dot com prajapita brahmakumari ishwariya vishwavidyalaya me rajyog meditation 4 din ke nishulk di jaati detail mil jayegi

बहुत अच्छी क्वेश्चन है आपका क्या आप मानते हैं कि ब्रह्मांड में आत्मा नहीं परमात्मा ब्रह्मा

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  124
WhatsApp_icon
user
0:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ब्रह्मांड में आत्मा है मनुष्य में जिले के सभी जीव जंतुओं की आत्मा है सभी 8400000 योनियों की आत्माएं हैं और सबसे बड़ा या क्योंकि बात करने का मन बहुत प्यार करता हूं शाम 1:00 बजे प्रसाद वर्मा बोलते परमात्मा थैंक यू धन्यवाद

brahmaand me aatma hai manushya me jile ke sabhi jeev jantuon ki aatma hai sabhi 8400000 yoniyon ki aatmaen hain aur sabse bada ya kyonki baat karne ka man bahut pyar karta hoon shaam 1 00 baje prasad verma bolte paramatma thank you dhanyavad

ब्रह्मांड में आत्मा है मनुष्य में जिले के सभी जीव जंतुओं की आत्मा है सभी 8400000 योनियों क

Romanized Version
Likes  18  Dislikes    views  407
WhatsApp_icon
user

Pramodan swami (PK.VERMAN)

Prem Hi Dharm Hai Premi Karm Hi Prem Hi Safar

1:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपसे पूछा है क्या मानते हैं कि ब्रह्मांड में आत्माएं नहीं सिर्फ परमात्मा है चाहे आप आत्मा कर लो या परमात्मा के लोग हैं उसी का ही रूप है एक जैसी की कोई छोटी चिंगारी अलग कर दो फिर उसी में जाकर डाल दो तो एक है अलग कर दो तब अलग दिखाई देती है ऐसी ही आत्मा और परमात्मा है होती हैं वह एक बड़ी सी ज्वाला प्रपंच वाला है और मनुष्य में उपस्थित आत्मा एक छोटी सी ज्वाला है जलते हुए दीपक जमीन की यात्रा पूरी हो जाती है तो वह उसी में समा जाते हैं जब यात्रा में रहती है तब अलग रहते हैं

aapse poocha hai kya maante hain ki brahmaand me aatmaen nahi sirf paramatma hai chahen aap aatma kar lo ya paramatma ke log hain usi ka hi roop hai ek jaisi ki koi choti chingaari alag kar do phir usi me jaakar daal do toh ek hai alag kar do tab alag dikhai deti hai aisi hi aatma aur paramatma hai hoti hain vaah ek badi si jwala PRAPANCH vala hai aur manushya me upasthit aatma ek choti si jwala hai jalte hue deepak jameen ki yatra puri ho jaati hai toh vaah usi me sama jaate hain jab yatra me rehti hai tab alag rehte hain

आपसे पूछा है क्या मानते हैं कि ब्रह्मांड में आत्माएं नहीं सिर्फ परमात्मा है चाहे आप आत्मा

Romanized Version
Likes  17  Dislikes    views  237
WhatsApp_icon
user

Ramandeep Singh

Waheguru industry

3:31
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं ब्रह्मांड की नहीं में ब्राह्मणों की बात करता हूं बहुत आत्माएं हैं ब्राह्मणों में गृह मांड में इस जगत में किसी आत्मा को शरीर मिल चुका है कोई आत्मा शरीर का शरीर की चौहान है कोई आत्मा प्रभु के चरणों में जुड़ी हुई है बहुत सी आत्माएं हैं अभी मैं आपको एक इसका एक उदाहरण दे देता हूं कि कुछ अच्छे कर्म जो इंसान करता है तो जब वह मर जाता है उसका यह शरीर खत्म हो जाता है लेकिन आत्मा को दोबारा अगर जन्म लेना होता है तो उसको पहले तो आत्मा को मार मिलनी मिलनी चाहिए जैसी मां मिलेगी अगर आत्मा किसी की बहुत पवित्र है तो जब पवित्र आत्मा वाली मां नहीं मिल जाती पवित्र विचारों वाली मां नहीं मिल जाती तो वह आत्मा पैदा नहीं होती वह बेचारी भटकती रहती है एक मां के लिए एक मां को ढूंढने के लिए वह भटकती रहती है इसीलिए इंसान को आप अगर अच्छी तरीके से देखें तो राक्षस के तरीके से इंसान बहुत है बहुत ही घमंडी हैं कोई बहुत ही काम ही है कोई इंसान बहुत ही ज्यादा दूसरों को दुख पहुंचाने वाला है ऐसी आत्माएं तो रेगुलर पैदा हो रही है हर जगह पैदा हो रही लेकिन एक अच्छे विचारों वाली जो आत्मा है जिसके अंदर प्रभु की प्यास है प्रभु के चरणों की प्यास है उस आत्मा को पैदा होने के लिए बहुत ही वक्त लग जाता है कई कई साल लग जाते हैं कई कई 100 साल लग जाते हैं क्यों मैं सीमा चाहिए उसको जब तक अपने जैसी मां नहीं मिल जाती तब तक उसकी पैदाइश नहीं हो सकती वह पैदा नहीं हो सकती इसलिए आज के वक्त पर गैसीमा है वैसे उनके बच्चे हैं और जैसे बच्चे हैं वैसे उनके आगे बच्चे हैं तो कहीं ना कहीं मैं इसलिए आपको यह बात बता रहा हूं कि इसीलिए पीरों को पैगंबर ओं को साधुओं को सन्यासियों को इतना ज्यादा नहीं हम लोग देश में देखते हैं आदमियों को तो कितना मर्जी देख सकते हैं की मां बड़ी मुश्किल से मिलती इसलिए ब्राह्मण में बहुत सी आत्माएं हैं जो शरीर को ढूंढ रही हैं बहुत सी आत्माएं हैं जो प्रभु चरणों में लगी है बहुत सी आत्माओं का जन्म हो रहा मतलब बहुत से आत्मा शरीर में जा रहे हैं कई शरीर से निकल रही हैं यह चक्र चलता ही चला जा रहा है और चलता ही रहेगा लेकिन जब शरीर में आत्मा है तब तक हम को प्रभु के चरणों की आस होनी चाहिए हम जिंदा जी इस आत्मा को परमात्मा में विलीन कर लेंगे तू ही कहीं ना कहीं अच्छी बात है तो यह आत्मा परमात्मा हो सकती है अगर शरीर छूट गया तो फिर दोबारा से या आत्मा फिर से शरीर को ढूंढना शुरू कर देती धन्यवाद

main brahmaand ki nahi me brahmanon ki baat karta hoon bahut aatmaen hain brahmanon me grah mand me is jagat me kisi aatma ko sharir mil chuka hai koi aatma sharir ka sharir ki Chauhan hai koi aatma prabhu ke charno me judi hui hai bahut si aatmaen hain abhi main aapko ek iska ek udaharan de deta hoon ki kuch acche karm jo insaan karta hai toh jab vaah mar jata hai uska yah sharir khatam ho jata hai lekin aatma ko dobara agar janam lena hota hai toh usko pehle toh aatma ko maar milani milani chahiye jaisi maa milegi agar aatma kisi ki bahut pavitra hai toh jab pavitra aatma wali maa nahi mil jaati pavitra vicharon wali maa nahi mil jaati toh vaah aatma paida nahi hoti vaah bechari bhatakti rehti hai ek maa ke liye ek maa ko dhundhne ke liye vaah bhatakti rehti hai isliye insaan ko aap agar achi tarike se dekhen toh rakshas ke tarike se insaan bahut hai bahut hi ghamandi hain koi bahut hi kaam hi hai koi insaan bahut hi zyada dusro ko dukh pahunchane vala hai aisi aatmaen toh regular paida ho rahi hai har jagah paida ho rahi lekin ek acche vicharon wali jo aatma hai jiske andar prabhu ki pyaas hai prabhu ke charno ki pyaas hai us aatma ko paida hone ke liye bahut hi waqt lag jata hai kai kai saal lag jaate hain kai kai 100 saal lag jaate hain kyon main seema chahiye usko jab tak apne jaisi maa nahi mil jaati tab tak uski paidaaish nahi ho sakti vaah paida nahi ho sakti isliye aaj ke waqt par gaisima hai waise unke bacche hain aur jaise bacche hain waise unke aage bacche hain toh kahin na kahin main isliye aapko yah baat bata raha hoon ki isliye piron ko paigambar on ko sadhuon ko sanyasiyon ko itna zyada nahi hum log desh me dekhte hain adamiyo ko toh kitna marji dekh sakte hain ki maa badi mushkil se milti isliye brahman me bahut si aatmaen hain jo sharir ko dhundh rahi hain bahut si aatmaen hain jo prabhu charno me lagi hai bahut si atmaon ka janam ho raha matlab bahut se aatma sharir me ja rahe hain kai sharir se nikal rahi hain yah chakra chalta hi chala ja raha hai aur chalta hi rahega lekin jab sharir me aatma hai tab tak hum ko prabhu ke charno ki aas honi chahiye hum zinda ji is aatma ko paramatma me vileen kar lenge tu hi kahin na kahin achi baat hai toh yah aatma paramatma ho sakti hai agar sharir chhut gaya toh phir dobara se ya aatma phir se sharir ko dhundhana shuru kar deti dhanyavad

मैं ब्रह्मांड की नहीं में ब्राह्मणों की बात करता हूं बहुत आत्माएं हैं ब्राह्मणों में गृह म

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  176
WhatsApp_icon
user

Er Jaisingh

Mathematics Solution, 1:00PM TO 2:00PM

0:15
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्या आप मानते हैं कि ब्रह्मांड में आत्माएं नहीं सिर्फ परमात्मा नहीं बिल्कुल नहीं ब्रह्मांड में आत्माएं ही विचरण कर रहे हैं यही सत्य है

kya aap maante hain ki brahmaand mein aatmaen nahi sirf paramatma nahi bilkul nahi brahmaand mein aatmaen hi vichran kar rahe hain yahi satya hai

क्या आप मानते हैं कि ब्रह्मांड में आत्माएं नहीं सिर्फ परमात्मा नहीं बिल्कुल नहीं ब्रह्मांड

Romanized Version
Likes  70  Dislikes    views  1362
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

98 माइनर परमात्मा आए हैं

98 minor paramatma aaye hain

98 माइनर परमात्मा आए हैं

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  1
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!