यदि हम भारत में भिखारियों को सड़क की सफ़ाई करने की नौकरी दें, तो क्या होगा?...


user

Ishita Seth

Obstinate Programmer

0:55
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए मैं को अब मैं सच कहूं तो मुझे विचार बहुत ही ज्यादा पसंद में आया पसंद आया कि अगर हम भारत में जो भिखारी हैं उनको सड़क के सफाई के नौकरी दे तो क्या होगा तो सबसे पहले तू चढ़ के साथ सो जाएंगे ऐसे ओ ऐसे होगा क्योंकि तादाद है हमारे देश में वह बहुत ही ज्यादा है बहुत ही ज्यादा तादाद में भिखारी और सुग्रीव हमारे देश में तू कुछ नहीं करते हैं वह सिर्फ भीख मांगते हैं वह सिर्फ पैसे मांगते हैं तो यह बहुत ही ज्यादा अच्छी बात होगी अगर कुछ काम करके कैसे कमाए ना कि ऐसे ही भीख में पैसे मांगे और वह अगर उससे ज्यादा अच्छी बात यह होगी कि वह ऐसा काम कर रहे हैं जिससे उनके साथ साथ अपने देश का भी फायदा है तो मेरे हिसाब से तो बहुत अच्छी बात है और इसमें दिखा रही हूं कभी और भारत का भी दोनों का ही फायदा है

dekhiye main ko ab main sach kahun toh mujhe vichar bahut hi zyada pasand mein aaya pasand aaya ki agar hum bharat mein jo bhikhari hain unko sadak ke safaai ke naukri de toh kya hoga toh sabse pehle tu chad ke saath so jaenge aise o aise hoga kyonki tadad hai hamare desh mein vaah bahut hi zyada hai bahut hi zyada tadad mein bhikhari aur sugreev hamare desh mein tu kuch nahi karte hain vaah sirf bhik mangate hain vaah sirf paise mangate hain toh yah bahut hi zyada achi baat hogi agar kuch kaam karke kaise kamaye na ki aise hi bhik mein paise mange aur vaah agar usse zyada achi baat yah hogi ki vaah aisa kaam kar rahe hain jisse unke saath saath apne desh ka bhi fayda hai toh mere hisab se toh bahut achi baat hai aur isme dikha rahi hoon kabhi aur bharat ka bhi dono ka hi fayda hai

देखिए मैं को अब मैं सच कहूं तो मुझे विचार बहुत ही ज्यादा पसंद में आया पसंद आया कि अगर हम भ

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  174
WhatsApp_icon
9 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Swati

सुनो ..सुनाओ..सीखो!

1:59
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

विकी आप कितने दिन बहुत अच्छी है कि जो भी भाग होते हैं उन्हें अगर क्लीनिंग का काम दे देना अगर सड़क साफ करने का काम दे दे तो क्या यह अच्छी बात नहीं होगी इस समय ही कहना चाहूंगी कि पहली बात तो हमारे यहां भिखारियों की संख्या बहुत ही ज्यादा है दूसरी बात सड़क साफ करने के लिए जो पहले से और जो काम पर लगाए गए लोग हैं जो सुपर से उनका क्या होगा देखिए जो भिखारी लोग हैं कुछ काम नहीं कर सकते बहुत सारे आजकल तो कम से कम कितना ज्यादा बढ़ गई है और मजदूरों की जरूरत हर किसी को होती है बहुत जरूरत होती है मजदूरों की पर मुझे ऐसा लगता है कि ज्यादा कुपोषण में जो भिखारी है मैं सब की बात नहीं करूं पर मूर्ति ऐसे लोग होते हैं जो काम करना नहीं चाहते वह नहीं चाहते मैं खुद का एक एग्जांपल देती हूं हम कहीं गए थे तो वहां पर हमारे शहर में तो वहां पर एक लेडीस इनके पास एक छोटा सा बच्चा था मेरी मामा ने बोला कि तुम यह भीख भीख मांगना छोड़ कर हमारे घर पर काम करना शुरू कर दो तो उसने मना कर दिया उसने बोला कि घर नहीं चलता यह नहीं होता मतलब उसने बहाने बहन से साफ साफ मना कर दिया तो मुझे लगता है कि लोग करना नहीं चाहते काम के लिए काम करने ऐसा नहीं कि काम भी कमी है आजकल तो मेड पर नहीं मिलती तो यह ऐसा कुछ भी कर सकती हैं कमा सकती और आप चली इनकी भी गलती नहीं है यह एक पूरा ज्ञान होता है ना मैंने सुना है और यह जो कि ना पर हो गया बच्चों की होती है यह इन्हीं भीख मंगवाने के लिए करते हैं और सारा जो पैसे कमाते मुस्लिम के पास नहीं रहता है अपने ऊपर जो इनके बोल सोचो ना देना पड़ता है यह बहुत अच्छा है कि इन से कुछ काम करवाया जाए और सरकार को जरूर देखना चाहिए सिर में कैंसर क्या काम कर सकते हैं और आपकी जरूरत है यह जो भिखारी लोग हैं जो बरसते हैं इनको कुछ काम मिले ताकि यह कुछ पॉजिटिव चीजें कर सके

vicky aap kitne din bahut achi hai ki jo bhi bhag hote hain unhe agar cleaning ka kaam de dena agar sadak saaf karne ka kaam de de toh kya yah achi baat nahi hogi is samay hi kehna chahungi ki pehli baat toh hamare yahan bhikhariyo ki sankhya bahut hi zyada hai dusri baat sadak saaf karne ke liye jo pehle se aur jo kaam par lagaye gaye log hain jo super se unka kya hoga dekhiye jo bhikhari log hain kuch kaam nahi kar sakte bahut saare aajkal toh kam se kam kitna zyada badh gayi hai aur majduro ki zaroorat har kisi ko hoti hai bahut zaroorat hoti hai majduro ki par mujhe aisa lagta hai ki zyada kuposhan mein jo bhikhari hai main sab ki baat nahi karun par murti aise log hote hain jo kaam karna nahi chahte vaah nahi chahte main khud ka ek example deti hoon hum kahin gaye the toh wahan par hamare shehar mein toh wahan par ek ladies inke paas ek chota sa baccha tha meri mama ne bola ki tum yah bhik bhik mangana chhod kar hamare ghar par kaam karna shuru kar do toh usne mana kar diya usne bola ki ghar nahi chalta yah nahi hota matlab usne bahaane behen se saaf saaf mana kar diya toh mujhe lagta hai ki log karna nahi chahte kaam ke liye kaam karne aisa nahi ki kaam bhi kami hai aajkal toh made par nahi milti toh yah aisa kuch bhi kar sakti hain kama sakti aur aap chali inki bhi galti nahi hai yah ek pura gyaan hota hai na maine suna hai aur yah jo ki na par ho gaya bacchon ki hoti hai yah inhin bhik mangwane ke liye karte hain aur saara jo paise kamate muslim ke paas nahi rehta hai apne upar jo inke bol socho na dena padta hai yah bahut accha hai ki in se kuch kaam karvaya jaaye aur sarkar ko zaroor dekhna chahiye sir mein cancer kya kaam kar sakte hain aur aapki zaroorat hai yah jo bhikhari log hain jo baraste hain inko kuch kaam mile taki yah kuch positive cheezen kar sake

विकी आप कितने दिन बहुत अच्छी है कि जो भी भाग होते हैं उन्हें अगर क्लीनिंग का काम दे देना अ

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  203
WhatsApp_icon
user

Rajsi

Sports Commentator & Reporter

1:02
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए काम करना होता है वह काम कहीं ना कहीं से ढूंढ ही लेते हैं मैंने कई बार देखा है सड़क पर यावल शहर पर होते हैं लेकिन उन्होंने पान मसाले अपने पास रखे होते वह बेच रहे होते हैं क्या मुझे यह संगीत जो होते हैं ना सॉक्स होते हैं उनको बेच रहे होते हैं तो इतने काम करना होता तो कर ही लेते हैं अगर आप सड़क के अधिकारियों को सड़क की सफाई का काम देंगे तो मुझे लगता को करने वाले आप चेक कर लीजिए निगरानी करने के लिए आपके जो खड़ा कीजिए तरीके उनको हटाने के लिए कहीं ना कहीं से ढूंढ लेंगे शायद हो सकता है शायद कुछ भी काम पर लग जाओ काम शुरू करने अपनी मेहनत से कमाई करने लग जाए लेकिन मुझे लगता कि 7 लोग खुश रहने की आदत पड़ जाती है मांग कर खाने की मांग कर काम कर लो फिर मेहनत का काम नहीं कर सकते हैं उनको काम की कमी नहीं है अगर आप काम पकड़ा रहे हो इतना काम भी कमी नहीं है लेकिन वह करना नहीं चाहते हम को पता है आसान तरीका यही है कि आप बैठे बैठे लोगों से मांग दे रही है आपको अपने आप पैसे मिल जाएंगे तुमको ज्यादा आसान लगता है आप काम ही पकड़ेंगे पर मुझे लगता कि वो करेंगे

dekhiye kaam karna hota hai vaah kaam kahin na kahin se dhundh hi lete hain maine kai baar dekha hai sadak par yawal shehar par hote hain lekin unhone pan masale apne paas rakhe hote vaah bech rahe hote hain kya mujhe yah sangeet jo hote hain na socks hote hain unko bech rahe hote hain toh itne kaam karna hota toh kar hi lete hain agar aap sadak ke adhikaariyo ko sadak ki safaai ka kaam denge toh mujhe lagta ko karne waale aap check kar lijiye nigrani karne ke liye aapke jo khada kijiye tarike unko hatane ke liye kahin na kahin se dhundh lenge shayad ho sakta hai shayad kuch bhi kaam par lag jao kaam shuru karne apni mehnat se kamai karne lag jaaye lekin mujhe lagta ki 7 log khush rehne ki aadat pad jaati hai maang kar khane ki maang kar kaam kar lo phir mehnat ka kaam nahi kar sakte hain unko kaam ki kami nahi hai agar aap kaam pakada rahe ho itna kaam bhi kami nahi hai lekin vaah karna nahi chahte hum ko pata hai aasaan tarika yahi hai ki aap baithe baithe logon se maang de rahi hai aapko apne aap paise mil jaenge tumko zyada aasaan lagta hai aap kaam hi pakdenge par mujhe lagta ki vo karenge

देखिए काम करना होता है वह काम कहीं ना कहीं से ढूंढ ही लेते हैं मैंने कई बार देखा है सड़क प

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  153
WhatsApp_icon
user

Kunjansinh Rajput

Aspiring Journalist

1:37
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए अगर भारत की सरकार को इस पर विचार करती है किसी अधिकारी को सड़क पर बैठा करो में सफाई की नौकरी तेजी से कानपुर को स्वच्छ भारत अभियान को सफलता पाई जाती 2017 की नई नौकरी दिला सकती है दुकान कपड़े का रंग महल के 7 साल देखते हैं काम देते थे और दो वक्त की रोटी भी कमा ले उससे मिलने का तुमसे इश्क जुनून के निशाने होंगे बेरोजगारी भी जाए वह भी कम हो जाएगी बहुत हंसता है और हमारे अधिकारी के पास छात्रों की हसीना मान जाएगी और हमारा देश पीछे हिस्से को स्वच्छ होगा तो खाना तो पड़ेगा सरकार यह चीज उठाती है कि अधिकारियों को सड़क की सफाई की नौकरी देश हमारा देश बहुत आगे बढ़ सकता है ऐसा कौन सा देश है जो कि ऐसा करते और अगर हम इस दुनिया की बात करें आप लोगों की रोटी पाटिया शादी स्वच्छ रहेगा और बेरोजगारी जय को छात्रों में जाएगी लेकिन जैसे दिखाने की संख्या जगह कम हो जाएगी धर्म की पहचान

dekhiye agar bharat ki sarkar ko is par vichar karti hai kisi adhikari ko sadak par baitha karo mein safaai ki naukri teji se kanpur ko swatch bharat abhiyan ko safalta payi jaati 2017 ki nayi naukri dila sakti hai dukaan kapde ka rang mahal ke 7 saal dekhte hain kaam dete the aur do waqt ki roti bhi kama le usse milne ka tumse ishq junun ke nishane honge berojgari bhi jaaye vaah bhi kam ho jayegi bahut hansata hai aur hamare adhikari ke paas chhatro ki hasina maan jayegi aur hamara desh peeche hisse ko swatch hoga toh khana toh padega sarkar yah cheez uthaati hai ki adhikaariyo ko sadak ki safaai ki naukri desh hamara desh bahut aage badh sakta hai aisa kaun sa desh hai jo ki aisa karte aur agar hum is duniya ki baat karen aap logon ki roti patiya shadi swatch rahega aur berojgari jai ko chhatro mein jayegi lekin jaise dikhane ki sankhya jagah kam ho jayegi dharam ki pehchaan

देखिए अगर भारत की सरकार को इस पर विचार करती है किसी अधिकारी को सड़क पर बैठा करो में सफाई क

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  176
WhatsApp_icon
user

.

Hhhgnbhh

1:08
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरे को यह विचार आपका बहुत पसंद आया है कि भिखारियों को वह सड़क की सफाई के नौकरी तेजी से को क्या होगा इससे बहुत फायदा होगा भिखारियों का भी फायदा होगा और बाकी पूरी जनता का भी फायदा होगा कि देखा गया है रोड पर भिखारी बहुत ज्यादा तंग करते हैं लोगों को भीख मांगने आ जाते हैं तो यह चीज एक अच्छी नहीं लगती है जब किसी को भी हम को मार रहे होते हैं अपना शहर या देश तो यह चीज अच्छी नहीं लगती कि लोग ऐसे मांगना चाहते हैं तो मुझे लगता है कि यह जो चीज है इससे लोगों को आप एंप्लॉयमेंट में लेकर किसी जाकर दिखा रही है अगर कोई देखता है हमारे देश के अंदर से यही पता चलता है कि यहां पर गरीबी कितनी ज्यादा फैली हुई है तो अगर उन्हें जॉब मिल जाएगी तो उससे एक तो सर के साथ रहेंगे ऊपर से यह पता चलेगा कि हमारे एंप्लॉयमेंट बहुत ज्यादा है भिखारी तंग नहीं करेंगे लोगों को और उनको भी उनकी जो रोजगारी है वह भी मिल जाएगी और कहीं ना कहीं से बहुत ज्यादा फायदा होने वाला है भारत को क्योंकि पूरे भारत में जितनी है उतनी तादाद है भिखारियों की अगर उनको थोड़ा भी काम मिल जाएगा तो मैं लगता है कि उनके लिए भी बहुत ज्यादा फायदे की बात हो गई हम लोगों के लिए भी बहुत ज्यादा फायदे की बात होगी सर के साथ रहा करेंगे

mere ko yah vichar aapka bahut pasand aaya hai ki bhikhariyo ko vaah sadak ki safaai ke naukri teji se ko kya hoga isse bahut fayda hoga bhikhariyo ka bhi fayda hoga aur baki puri janta ka bhi fayda hoga ki dekha gaya hai road par bhikhari bahut zyada tang karte hain logon ko bhik mangne aa jaate hain toh yah cheez ek achi nahi lagti hai jab kisi ko bhi hum ko maar rahe hote hain apna shehar ya desh toh yah cheez achi nahi lagti ki log aise mangana chahte hain toh mujhe lagta hai ki yah jo cheez hai isse logon ko aap employment mein lekar kisi jaakar dikha rahi hai agar koi dekhta hai hamare desh ke andar se yahi pata chalta hai ki yahan par gareebi kitni zyada faili hui hai toh agar unhe job mil jayegi toh usse ek toh sir ke saath rahenge upar se yah pata chalega ki hamare employment bahut zyada hai bhikhari tang nahi karenge logon ko aur unko bhi unki jo rojgari hai vaah bhi mil jayegi aur kahin na kahin se bahut zyada fayda hone vala hai bharat ko kyonki poore bharat mein jitni hai utani tadad hai bhikhariyo ki agar unko thoda bhi kaam mil jaega toh main lagta hai ki unke liye bhi bahut zyada fayde ki baat ho gayi hum logon ke liye bhi bahut zyada fayde ki baat hogi sir ke saath raha karenge

मेरे को यह विचार आपका बहुत पसंद आया है कि भिखारियों को वह सड़क की सफाई के नौकरी तेजी से को

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  160
WhatsApp_icon
play
user

Bhaskar Saurabh

Politics Follower | Engineer

1:44

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमारे देश में भिखारियों की संख्या अत्यधिक हो गई है हम कहीं पर भी जाते हैं वहां पर हमें भिखारी मिल ही जाते हैं किसी रेलवे स्टेशन पर मंदिर मस्जिद या फिर किसी भी धार्मिक स्थल के बाहर भिखारियों की लंबी लाइन देखने को मिलती है इनमें से कई भिखारी तो ऐसे होते हैं जो बिल्कुल शारीरिक रूप से स्वस्थ होते हैं हट्टे-कट्टे दिखते हैं लेकिन वह काम नहीं करना चाहते बस आलस के वजह से वह भीख मांगते हैं और कई लोगों ने भीख दे देते हैं जिससे उनका गुजारा होता रहता है और उनकी आदत बन जाती है भीख मांगना जिसके वजह से वह कोई भी काम नहीं करते हैं तो अगर इस तरह के भिखारियों को नौकरी देने के लिए बोला जाए तो मेरे मुताबिक ये कोई भी नौकरी करने में इंटरेस्ट नहीं दिखाएंगे क्योंकि बिना मेहनत के ही इनको पैसे मिलते हैं और इसकी उन्हें आदत हो चुकी रहती है लेकिन कई लोग ऐसे होते हैं जिनके पास कोई

hamare desh mein bhikhariyo ki sankhya atyadhik ho gayi hai hum kahin par bhi jaate hain wahan par hamein bhikhari mil hi jaate hain kisi railway station par mandir masjid ya phir kisi bhi dharmik sthal ke bahar bhikhariyo ki lambi line dekhne ko milti hai inmein se kai bhikhari toh aise hote hain jo bilkul sharirik roop se swasth hote hain hatte katte dikhte hain lekin vaah kaam nahi karna chahte bus aalas ke wajah se vaah bhik mangate hain aur kai logon ne bhik de dete hain jisse unka gujaara hota rehta hai aur unki aadat ban jaati hai bhik mangana jiske wajah se vaah koi bhi kaam nahi karte hain toh agar is tarah ke bhikhariyo ko naukri dene ke liye bola jaaye toh mere mutabik ye koi bhi naukri karne mein interest nahi dikhayenge kyonki bina mehnat ke hi inko paise milte hain aur iski unhe aadat ho chuki rehti hai lekin kai log aise hote hain jinke paas koi

हमारे देश में भिखारियों की संख्या अत्यधिक हो गई है हम कहीं पर भी जाते हैं वहां पर हमें भिख

Romanized Version
Likes  23  Dislikes    views  301
WhatsApp_icon
user

Pragati

Aspiring Lawyer

1:57
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह बहुत ही अच्छा प्रस्ताव रहेगा कि अगर भिखारियों को सड़क की सफाई की नौकरी दी जाए और इसके बदले में भिखारियों को किसी तरह से और थोड़ा बहुत पी व्ही किया जा सकता है कि वह जितनी सड़क साफ करेंगे उतना हिसाब से उनको पेश किया जाएगा तो यह बहुत अच्छा प्रस्ताव रहेगा इसलिए क्योंकि और जो गवर्मेंट है इस तरह से जो भिखारी भीख मांगकर अपना घर घर चलाते हैं या अपने जीवन जीवन व्यतीत करते हैं तो उनको एक तरह से एक एक पैसे की जो जरूरत उनको होती है वह गवर्नमेंट की तरफ से प्रोवाइड करा जाएगा और गवर्नमेंट भी फ्री में पैसा नहीं दे रही होगी बल्कि उनकी मेहनत का पैसा उनको दे रही होगी बहुत ही अच्छा प्रस्ताव रहेगा अगर कॉमेंट्स को लेती है और किसी तरह से करने की कोशिश करती है लेकिन हमें इसके पीछे एक और चीज देखनी होगी कि जितने भी अधिकारी होते हैं वह खुद भिखारी बनना चाहते हैं ना कि उनको किसी तरह से पोस्ट किया जाता है मैंने माना कि लोगों के पास नौकरी नहीं होती है तो उनके पास कोई और चारा ना होने की वजह से वह भिखारी बन जाते हैं लेकिन कई कई लोग ऐसे बेकारी कराए गए कार्यों का रैकेट चला रहे होते हैं और उनके पास खूब पैसा होता है सब कुछ होता है लेकिन उसके बाद में बेकारी नहीं करते हैं ताकि अविकारी के बनने के बाद उनको तो पैसा मिलेगा उसके बाद उसे वह कलेक्ट कर सके क्योंकि अगर आप किसी भी घाट पर जाएंगे बनारस के यहां अलाहाबाद की तो वहां पर आपको ऐसे बहुत सारे विकारी मिलेंगे जिनके खुद के बंगले होते हैं और क्लास होते हैं जो उन्होंने किराए पर दे रखे होते हैं और खुद को भीख मांग मांग कर पैसा कमाते हैं तो ऐसी है धार्मिक स्थल होते हैं वहां पर बहुत सारे अधिकारी होते हैं जो कि सिर्फ अधिकारी बनना बंद कर दिखाते हैं बल्कि भाषण में भिखारी नहीं होते और उनको कुछ काम नहीं करना होता है वह किसी तरह की मेहनत नहीं करना चाहते हैं इसलिए वह बेकार ही बनते हैं तो सरकार को यह भी ध्यान देना पड़ेगा कि कौन सच में गरीब है और भीख मांगने पर मजबूर है और कौन इस तरह का रैकेट चला रहा है और तभी सरकार इस प्रस्ताव को अच्छे से कर पाएगी हमारे देश में

yah bahut hi accha prastaav rahega ki agar bhikhariyo ko sadak ki safaai ki naukri di jaaye aur iske badle mein bhikhariyo ko kisi tarah se aur thoda bahut p we kiya ja sakta hai ki vaah jitni sadak saaf karenge utana hisab se unko pesh kiya jaega toh yah bahut accha prastaav rahega isliye kyonki aur jo government hai is tarah se jo bhikhari bhik mangakar apna ghar ghar chalte hain ya apne jeevan jeevan vyatit karte hain toh unko ek tarah se ek ek paise ki jo zaroorat unko hoti hai vaah government ki taraf se provide kara jaega aur government bhi free mein paisa nahi de rahi hogi balki unki mehnat ka paisa unko de rahi hogi bahut hi accha prastaav rahega agar comments ko leti hai aur kisi tarah se karne ki koshish karti hai lekin hamein iske peeche ek aur cheez dekhni hogi ki jitne bhi adhikari hote hain vaah khud bhikhari banna chahte hain na ki unko kisi tarah se post kiya jata hai maine mana ki logon ke paas naukri nahi hoti hai toh unke paas koi aur chara na hone ki wajah se vaah bhikhari ban jaate hain lekin kai kai log aise bekari karae gaye kaaryon ka RACKET chala rahe hote hain aur unke paas khoob paisa hota hai sab kuch hota hai lekin uske baad mein bekari nahi karte hain taki avikari ke banne ke baad unko toh paisa milega uske baad use vaah collect kar sake kyonki agar aap kisi bhi ghat par jaenge banaras ke yahan allahabad ki toh wahan par aapko aise bahut saare vikari milenge jinke khud ke bangale hote hain aur class hote hain jo unhone kiraye par de rakhe hote hain aur khud ko bhik maang maang kar paisa kamate hain toh aisi hai dharmik sthal hote hain wahan par bahut saare adhikari hote hain jo ki sirf adhikari banna band kar dikhate hain balki bhashan mein bhikhari nahi hote aur unko kuch kaam nahi karna hota hai vaah kisi tarah ki mehnat nahi karna chahte hain isliye vaah bekar hi bante hain toh sarkar ko yah bhi dhyan dena padega ki kaun sach mein garib hai aur bhik mangne par majboor hai aur kaun is tarah ka RACKET chala raha hai aur tabhi sarkar is prastaav ko acche se kar payegi hamare desh mein

यह बहुत ही अच्छा प्रस्ताव रहेगा कि अगर भिखारियों को सड़क की सफाई की नौकरी दी जाए और इसके ब

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  218
WhatsApp_icon
user

Ridhima

Mass Communications Student

0:32
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर ऐसा कदम उठाया जाए तो यह बहुत एक अच्छा टाइप होगा क्योंकि फिर उन लोग को भी कुछ काम करने का मौका मिलेगा और उनको ठीक तरीके से नॉर्मल तरीके से कमाने का मौका मिलेगा उनको वह नहीं लगेगा कि हम लोग को ऐसे ही पैसा मिल रहा है या उनको भीख मांगने की जरूरत पड़ेगी नहीं क्योंकि अगर उनके पास कुछ छोटा-मोटा भी जवाब मिले कुछ भी काम मिले करने का सुबह ऑफिस नहीं बोलेंगे क्योंकि उनको पैसा एक मंथली इनकम का मौका मिलेगा

agar aisa kadam uthaya jaaye toh yah bahut ek accha type hoga kyonki phir un log ko bhi kuch kaam karne ka mauka milega aur unko theek tarike se normal tarike se kamane ka mauka milega unko vaah nahi lagega ki hum log ko aise hi paisa mil raha hai ya unko bhik mangne ki zaroorat padegi nahi kyonki agar unke paas kuch chota mota bhi jawab mile kuch bhi kaam mile karne ka subah office nahi bolenge kyonki unko paisa ek monthly income ka mauka milega

अगर ऐसा कदम उठाया जाए तो यह बहुत एक अच्छा टाइप होगा क्योंकि फिर उन लोग को भी कुछ काम करने

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  163
WhatsApp_icon
user

Anukrati

Journalism Graduate

1:11
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भिक्षावृत्ति हमारे देश के लिए एक अभिशाप है देश में समस्या से निपटने के लिए केंद्र व राज्य सरकार ने कई प्रयास किए हैं सरकार ने शिक्षा अधिकारियों को देश की मुख्यधारा से जोड़ने की भी कोशिश की लेकिन भिक्षावृत्ति छुड़ाने की सभी कोशिशें बेकार गई इनमें से कोई भी इस कार्य को छोड़ना ही नहीं चाहता है क्योंकि इनका कहना है कि किसी भी नौकरी या अन्य गांव से ज्यादा पैसा हम इसमें कमा लेते हैं हैदराबाद में विकारी की सूचना देने वालों को राज्य सरकार ने ₹500 नाम रखा है इससे वह काफी संख्या में विकारी पकड़ में आए हैं उन्हें कुशल बना बनाने के लिए ट्रेनिंग दी जा रही है ताकि वह यह गंदा काम छोड़कर नौकरी करके पैसा कमाए आपका सुझाव अच्छा है लेकिन इस बंदे को यह लोग छोड़ना ही नहीं चाहते हैं सफाई के काम से नहीं यह काम ज्यादा इज्जत वाला लगता है अगर हमें भारत से इस अभिशाप को मिटाना है तो सरकारों को इसके लिए सख्ती से पेश आना होगा और अच्छी रोजगार योजनाएं लानी होंगी

bhikshavritti hamare desh ke liye ek abhishap hai desh mein samasya se nipatane ke liye kendra v rajya sarkar ne kai prayas kiye hain sarkar ne shiksha adhikaariyo ko desh ki mukhyadhara se jodne ki bhi koshish ki lekin bhikshavritti chudane ki sabhi koshishein bekar gayi inmein se koi bhi is karya ko chhodna hi nahi chahta hai kyonki inka kehna hai ki kisi bhi naukri ya anya gaon se zyada paisa hum isme kama lete hain hyderabad mein vikari ki soochna dene walon ko rajya sarkar ne Rs naam rakha hai isse vaah kafi sankhya mein vikari pakad mein aaye hain unhe kushal bana banaane ke liye training di ja rahi hai taki vaah yah ganda kaam chhodkar naukri karke paisa kamaye aapka sujhaav accha hai lekin is bande ko yah log chhodna hi nahi chahte hain safaai ke kaam se nahi yah kaam zyada izzat vala lagta hai agar hamein bharat se is abhishap ko mitana hai toh sarkaro ko iske liye sakhti se pesh aana hoga aur achi rojgar yojanaye lani hongi

भिक्षावृत्ति हमारे देश के लिए एक अभिशाप है देश में समस्या से निपटने के लिए केंद्र व राज्य

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  191
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!