पंजाब सरकार चाहती है की MLA अपनी आयकर का भुगतान ख़ुद करें,क्या सभी राज्यों को यह शुरू करना चाहिए?...


play
user

Bhaskar Saurabh

Politics Follower | Engineer

1:51

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पंजाब सरकार के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने यह कहा है कि जो भी MLA हैं वह अपना आयकर भुगतान खुद ही करें क्योंकि अभी तक पंजाब सरकार ही उनका टैक्स पर कर रही थी जिसकी वजह से लगभग 11 करोड रुपए अतिरिक्त सालाना सरकारी खर्च हो रहा था तो मेरे मुताबिक हर एक सरकार को ऐसा ही करना चाहिए कि जो भी MLA या फिर mp है वह अपना टेक्स्ट खुद पर करें क्योंकि पहले से ही उनकी जो आए हैं वह काफी रहती है उन्हें काफी सरकारी भत्ते मिलते हैं बहुत सारी फैसिलिटीज मिलती है तो उन्हें अपना आयकर देने में क्या परेशानी हो सकती है अभी पंजाब सरकार के 117 में से 95 विधायक पहले से ही करोड़पति हैं तो उनके पास पैसों की तो कोई कमी नहीं है और सरकार को उनके टैक्स देने का कोई औचित्य नहीं बनता है तो मेरे मुताबिक यह जो पैसे बचेंगे उसे सरकार को अन्य जरूरी डेवलपमेंट के कार्यों में लगाना चाहिए क्योंकि कई ऐसे डेवलपमेंट के काम रहते हैं जो पैसों की कमी के वजह से रुक जाते हैं तो सरकार को इन पैसों का सही इस्तेमाल करना चाहिए ताकि जनता को इसका कुछ लाभ पहुंच सके और कभी भी मेरे मुताबिक इस तरह की कोई सरकारी व्यवस्था नहीं बननी चाहिए जिसमें MLA या फिर MP का टेक्स्ट सरकारी खर्च दिया जाए क्योंकि जब आम आदमी जिसकी इनकम ₹300000 से ज्यादा है वह टाइप दे सकता है तो जो यह करोड़पति नेता है वह टेक्स्ट क्यों नहीं दे सकते तो मेरे मुताबिक तो सही चीज है और वह हर एक सरकार को ऐसा ही करना चाहिए कि जो भी मंत्री या फिर मेंबर ऑफ लेजिस्लेटिव असेंबली हैं वह अपना टेक्स्ट खुद वाहन करें

punjab sarkar ke mukhyamantri captain amarindar Singh ne yah kaha hai ki jo bhi MLA hain vaah apna aaykar bhugtan khud hi kare kyonki abhi tak punjab sarkar hi unka tax par kar rahi thi jiski wajah se lagbhag 11 crore rupaye atirikt salana sarkari kharch ho raha tha toh mere mutabik har ek sarkar ko aisa hi karna chahiye ki jo bhi MLA ya phir mp hai vaah apna text khud par kare kyonki pehle se hi unki jo aaye hain vaah kaafi rehti hai unhe kaafi sarkari bhatte milte hain bahut saree facilities milti hai toh unhe apna aaykar dene mein kya pareshani ho sakti hai abhi punjab sarkar ke 117 mein se 95 vidhayak pehle se hi crorepati hain toh unke paas paison ki toh koi kami nahi hai aur sarkar ko unke tax dene ka koi auchitya nahi baata hai toh mere mutabik yah jo paise bachenge use sarkar ko anya zaroori development ke karyo mein lagana chahiye kyonki kai aise development ke kaam rehte hain jo paison ki kami ke wajah se ruk jaate hain toh sarkar ko in paison ka sahi istemal karna chahiye taki janta ko iska kuch labh pohch sake aur kabhi bhi mere mutabik is tarah ki koi sarkari vyavastha nahi banani chahiye jisme MLA ya phir MP ka text sarkari kharch diya jaaye kyonki jab aam aadmi jiski income Rs se zyada hai vaah type de sakta hai toh jo yah crorepati neta hai vaah text kyon nahi de sakte toh mere mutabik toh sahi cheez hai aur vaah har ek sarkar ko aisa hi karna chahiye ki jo bhi mantri ya phir member of legislative assembly hain vaah apna text khud vaahan karen

पंजाब सरकार के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने यह कहा है कि जो भी MLA हैं वह अपना आयकर

Romanized Version
Likes  17  Dislikes    views  141
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Kunjansinh Rajput

Aspiring Journalist

1:59
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

होली के पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर का निर्णय लिया है कि वो कितने में है वह खुद जाएगा अपनी आय का भुगतान करेंगे सॉरी सेक्सी गाने HD के फोटो चाहिए सरकार को आतंकवादियों है MLA MLA पंजाब में 59 का भुगतान खुद कर रहे हैं गांव के कार्यकर्ताओं को नुकसान हो 11 अप्रैल को कैसे जगाए सरकारी नौकरी कितनी चिंता नहीं होती थी आपने और टैक्स भरने के उसके फोन से बात नहीं बन पाते थे तो मेरे हिसाब से बाकी सारे राज्य को जो है वह यह शुरू कर देना चाहिए क्योंकि का नाका फैमिली जो है वह भी इस देश के हम क्या करते थे दे देना और वह भी मामूली ही लोग हैं जो फर्क इतना है कि वह मैंने तो कल ही नहीं है कि वह खुद पर है आप आयकर का भुगतान नहीं करेंगे तो खुदा कर का भुगतान करते हैं तो यह बहुत अच्छी बात होगी कहां का पब्लिक बाग उसे भी की चाय मिले हो या फिर एक CA हो या फिर कोई भी हो सब को अपने फैसले खुद ही रहना पड़ता होगा कपड़े बिल्कुल अच्छी जिंदगी शुरू कर देना चाहिए परंतु इसका ध्यान रखना चाहिए कि उनके पास कितने MLA हैं वह नहीं अगर MLA हाईकोर्ट का भुगतान खुद कर रहे हो कितना अच्छा होगा अगर होगा और 40040 मेरे 4873 डिलीट कर रहे तो खाना काबा की के दोनों जगह सरकार जय हो उन पर कड़ी से कड़ी निंदा करने के लिए सभी राज्यों को जो है जैसे पंजाब ने किया है कि वह अपनी सारी आयकर का भुगतान करेंगे वैसे को भी याद करना

holi ke punjab ke mukhyamantri captain amarindar ka nirnay liya hai ki vo kitne mein hai vaah khud jaega apni aay ka bhugtan karenge sorry sexy gaane HD ke photo chahiye sarkar ko aatankwadion hai MLA MLA punjab mein 59 ka bhugtan khud kar rahe hain gaon ke karyakartaon ko nuksan ho 11 april ko kaise jagae sarkari naukri kitni chinta nahi hoti thi aapne aur tax bharne ke uske phone se baat nahi ban paate the toh mere hisab se baki saare rajya ko jo hai vaah yah shuru kar dena chahiye kyonki ka naka family jo hai vaah bhi is desh ke hum kya karte the de dena aur vaah bhi mamuli hi log hain jo fark itna hai ki vaah maine toh kal hi nahi hai ki vaah khud par hai aap aaykar ka bhugtan nahi karenge toh khuda kar ka bhugtan karte hain toh yah bahut achi baat hogi kahaan ka public bagh use bhi ki chai mile ho ya phir ek CA ho ya phir koi bhi ho sab ko apne faisle khud hi rehna padta hoga kapde bilkul achi zindagi shuru kar dena chahiye parantu iska dhyan rakhna chahiye ki unke paas kitne MLA hain vaah nahi agar MLA highcourt ka bhugtan khud kar rahe ho kitna accha hoga agar hoga aur 40040 mere 4873 delete kar rahe toh khana Kaba ki ke dono jagah sarkar jai ho un par kadi se kadi ninda karne ke liye sabhi rajyo ko jo hai jaise punjab ne kiya hai ki vaah apni saree aaykar ka bhugtan karenge waise ko bhi yaad karna

होली के पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर का निर्णय लिया है कि वो कितने में है वह खुद जा

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  152
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!