अरुण जेटली कहते हैं कि राज्य सरकार पेट्रोल/डीजल पर GST के पक्ष में नहीं है। इनपर GST होना चाहिए?...


user

Rajsi

Sports Commentator & Reporter

1:13
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अब राज्य सरकारें तो मना करेंगे क्योंकि हर किसी राज्य में अलग-अलग टैक्स जो लगता है अलग-अलग उनके खिलाफ होते हुए शासन का बजट तय होता है तो वह बिल्कुल मना करेंगे लेकिन मेरे हिसाब से लगन लगा दे तो कम से कम एक प्रॉफिट हो जाएगा कि पूरे देश में आपको सेम रोड पर पेट्रोल मिलेगा फिर आपको यह नहीं सोचना है कि अगर आप दिल्ली में हो तो आपको यहां पर बनाना है अगर आप नोएडा जा रहा था आपको वहां पेट्रोल बनाना है तो यह जो एनसीआर जो हमला दिल्ली में देखते हैं और इसके अलावा बाकी शहरों में भी होता है अगर जैसी लगा देंगे तो कम से कम एक उससे प्रॉफिट हुआ कि पूरे देश में आपको सिम रेट पर पेट्रोल मिल जाएगा लेकिन आप बिल्कुल जाता था जिसके लिए मना करेंगे कि हर जगह सेंट्रल एक्साइज ड्यूटी होपलेस जो वैल्यू एडेड टैक्स होता है तुम यह जो दो तब तक साथ हैं यह टेक्स्ट आपको हर जगह अलग-अलग रिपेयर करा देते रेट का तो अगर कहीं पर ज्यादा पड़ रहा है तो कहीं पर कम पड़ रहा है वह जीएसटी उनको बैलेंस कर देगा मेरे साथ शेयर कर देना चाहिए ज्यादा डिफरेंस नहीं पड़ेगा जीएसटी लगने के बाद क्या आप सेक्स करने के बाद कई स्टेट को प्रॉफिट भी हो सकता है तो कई स्टेट नुकसान में भी जा सकते हैं किसी का हमारे जैसे लगने के बाद उनके प्राइस काम भी हो सके बढ़ा भी सकते हैं लेकिन अगर बढ़ेंगे घटेंगे तो वह फिर को पूरे देश में सिम प्राइस पर होगा तो अगर आप यह कर दोगे तो यह प्रॉफिट भी है कहीं ना कहीं तो यह सब के लिए अच्छा होगा बेहतर होगा आई थिंक सबके लिए बेहतर होगा सबके लिए अच्छा है

ab rajya sarkaren toh mana karenge kyonki har kisi rajya mein alag alag tax jo lagta hai alag alag unke khilaf hote hue shasan ka budget tay hota hai toh vaah bilkul mana karenge lekin mere hisab se lagan laga de toh kam se kam ek profit ho jaega ki poore desh mein aapko same road par petrol milega phir aapko yah nahi sochna hai ki agar aap delhi mein ho toh aapko yahan par banana hai agar aap noida ja raha tha aapko wahan petrol banana hai toh yah jo NCR jo hamla delhi mein dekhte hain aur iske alava baki shaharon mein bhi hota hai agar jaisi laga denge toh kam se kam ek usse profit hua ki poore desh mein aapko sim rate par petrol mil jaega lekin aap bilkul jata tha jiske liye mana karenge ki har jagah central excise duty hopeless jo value added tax hota hai tum yah jo do tab tak saath hain yah text aapko har jagah alag alag repair kara dete rate ka toh agar kahin par zyada pad raha hai toh kahin par kam pad raha hai vaah gst unko balance kar dega mere saath share kar dena chahiye zyada difference nahi padega gst lagne ke baad kya aap sex karne ke baad kai state ko profit bhi ho sakta hai toh kai state nuksan mein bhi ja sakte hain kisi ka hamare jaise lagne ke baad unke price kaam bhi ho sake badha bhi sakte hain lekin agar badhenge ghatenge toh vaah phir ko poore desh mein sim price par hoga toh agar aap yah kar doge toh yah profit bhi hai kahin na kahin toh yah sab ke liye accha hoga behtar hoga I think sabke liye behtar hoga sabke liye accha hai

अब राज्य सरकारें तो मना करेंगे क्योंकि हर किसी राज्य में अलग-अलग टैक्स जो लगता है अलग-अलग

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  190
KooApp_icon
WhatsApp_icon
4 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!