अगर आपको सिर्फ़ एक बार टाइम मशीन से समय यात्रा करने का अवसर प्राप्त हो तो आप कौनसे काल में समय यात्रा करना पसंद करेंगे?...


play
user
1:39

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एक्चुअली इस प्रश्न का उत्तर काल्पनिक हो सकता है क्योंकि अगर मैं कहूंगा कि मैं भूतकाल में जाकर यह देखना चाहूंगा कि मैंने जिंदगी में क्या-क्या किया है तो उसको मैं बदलने सकता हूं अगर मैं कहूं कि मैं भविष्य काल में जाकर यह देखना चाहूंगा कि आज मैं आगे जाकर क्या क्या करने वाला हो या मैं कौन से मुकाम पर रहूंगा तो उसको भी मैं बदल नहीं पाऊंगा क्योंकि अगर हम यह सोचते हैं प्यार में भविष्य काल में जाकर टाइम मशीन से भविष्य काल में जाकर यह चेक करो कि मैं कहां पर पहुंच जाऊंगा क्या करूंगा कैसे मेरी लाइफ होगी तो सारी जिंदगी में अगर बदलना भी चाहूं तो नहीं बदल सकता क्योंकि रियालिटी यह है कि हम भविष्य बदल नहीं सकते भूत बदलने सकते हैं तो इसका एक सिंपल आंसर ए साइकोलॉजिकल आंसर एक फिलोसॉफिए कि आपको अगर भविष्य काल बदलना है तो आपको वर्तमान बदलना पड़ेगा क्योंकि वर्तमान में किए गए कामों का नतीजा हमें भविष्य काल में मिलता है तो इससे सेना ही भूतकाल नहीं भविष्य काल के दोनों ही हमारे हाथ में नहीं है अगर हम वर्तमान में अच्छा कुछ कर ले तो हम भविष्य में बेहतर अच्छा कर सकते हैं और अगर हम आज का दिन बेहतर करेंगे तो हमारा बीता हुआ और हमारा आने वाला कल दोनों ही बढ़िया हमारे लिए हो सकते हैं

actually is prashna ka uttar kalpnik ho sakta hai kyonki agar main kahunga ki main bhootkaal mein jaakar yah dekhna chahunga ki maine zindagi mein kya kya kiya hai toh usko main badalne sakta hoon agar main kahun ki main bhavishya kaal mein jaakar yah dekhna chahunga ki aaj main aage jaakar kya kya karne vala ho ya main kaunsi mukam par rahunga toh usko bhi main badal nahi paunga kyonki agar hum yah sochte hai pyar mein bhavishya kaal mein jaakar time machine se bhavishya kaal mein jaakar yah check karo ki main kahaan par pohch jaunga kya karunga kaise meri life hogi toh saree zindagi mein agar badalna bhi chahu toh nahi badal sakta kyonki reality yah hai ki hum bhavishya badal nahi sakte bhoot badalne sakte hai toh iska ek simple answer a saikolajikal answer ek filosafiye ki aapko agar bhavishya kaal badalna hai toh aapko vartaman badalna padega kyonki vartaman mein kiye gaye kaamo ka natija hamein bhavishya kaal mein milta hai toh isse sena hi bhootkaal nahi bhavishya kaal ke dono hi hamare hath mein nahi hai agar hum vartaman mein accha kuch kar le toh hum bhavishya mein behtar accha kar sakte hai aur agar hum aaj ka din behtar karenge toh hamara bita hua aur hamara aane vala kal dono hi badhiya hamare liye ho sakte hain

एक्चुअली इस प्रश्न का उत्तर काल्पनिक हो सकता है क्योंकि अगर मैं कहूंगा कि मैं भूतकाल में ज

Romanized Version
Likes  13  Dislikes    views  1165
KooApp_icon
WhatsApp_icon
3 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!