झूठ और सच में क्या अंतर है?...


user

Ashok Bajpai

Rtd. Additional Collector P.C.S. Adhikari

1:46
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

झूठ और सच में क्या अंतर है देखिए जो घटना ऊंची वास्तव में घटित हुई है वह तो सच कहलाती है और जो हम अपनी बुद्धि से मन से पुष्कर की उस चीज को बताते हैं वो झूठा सच और झूठ नहीं है कहते हैं कि एक झूठ छुपाने के लिए सौ बार क्योंकि हमें याद नहीं रहता हमने कब किस बात को लेकर झूठ बोला है इसलिए हम कभी किसी बात को कहते हैं कभी किसी बात को कहते हैं पूछे जाने पर इस प्रकार हमारा झूठ पकड़ा पकड़ा भी जाता है जो घटना वास्तव में गठित हुई है जो सत्य वास्तव में हुआ है वह सत्य ही होता है इसलिए उसको बताने में हम एक ही प्रकार की कोई परेशानी नहीं तीसरा यह है कि झूठ को याद रखने के लिए हमने कब किसको क्या बताया था झूठ के बारे में बहुत ज्यादा इतने दिमाग पर स्ट्रेस देना पड़ता है बहुत याद रखना पड़ता है और व्यक्ति काफी काफी परेशानी में आ जाता है टेंशन में आ जाता है लेकिन सब जो होता है उसके लिए व्यक्ति को कोई टेंशन नहीं लेना पड़ता सत्य घटना जो है वह हमेशा याद रहती है और इस प्रकार झूठ सच में मैं यही अंतर मांगता

jhuth aur sach me kya antar hai dekhiye jo ghatna unchi vaastav me ghatit hui hai vaah toh sach kahalati hai aur jo hum apni buddhi se man se pushkar ki us cheez ko batatey hain vo jhutha sach aur jhuth nahi hai kehte hain ki ek jhuth chhupaane ke liye sau baar kyonki hamein yaad nahi rehta humne kab kis baat ko lekar jhuth bola hai isliye hum kabhi kisi baat ko kehte hain kabhi kisi baat ko kehte hain pooche jaane par is prakar hamara jhuth pakada pakada bhi jata hai jo ghatna vaastav me gathit hui hai jo satya vaastav me hua hai vaah satya hi hota hai isliye usko batane me hum ek hi prakar ki koi pareshani nahi teesra yah hai ki jhuth ko yaad rakhne ke liye humne kab kisko kya bataya tha jhuth ke bare me bahut zyada itne dimag par stress dena padta hai bahut yaad rakhna padta hai aur vyakti kaafi kaafi pareshani me aa jata hai tension me aa jata hai lekin sab jo hota hai uske liye vyakti ko koi tension nahi lena padta satya ghatna jo hai vaah hamesha yaad rehti hai aur is prakar jhuth sach me main yahi antar mangta

झूठ और सच में क्या अंतर है देखिए जो घटना ऊंची वास्तव में घटित हुई है वह तो सच कहलाती है और

Romanized Version
Likes  133  Dislikes    views  1545
KooApp_icon
WhatsApp_icon
12 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

Related Searches:
sach mein antar ;

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!