क्या भारत में अंग्रेजो द्वारा बनाए गए पुलिस अधिनियमों, कानूनों में बदलाव की जरुरत है?...


user
Play

Likes  64  Dislikes    views  2131
WhatsApp_icon
5 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Pankaj Pandit

Journalist

0:40
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे लगता है नोटों पर हमारा देवी न्यू 16 पुलिस एक्ट है हमारा व्हाट्सएप और किन चीजों में बदलाव लाना बहुत जरूरी है तू को बदलने की जरूरत

mujhe lagta hai noton par hamara devi new 16 police act hai hamara whatsapp aur kin chijon mein badlav lana bahut zaroori hai tu ko badalne ki zaroorat

मुझे लगता है नोटों पर हमारा देवी न्यू 16 पुलिस एक्ट है हमारा व्हाट्सएप और किन चीजों में बद

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  79
WhatsApp_icon
play
user

Abhishek Sharma

Forest Range Officer, MP

1:34

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अंग्रेजों द्वारा बनाए गए पैनल कोर्ट को बाद में इंडियन गवर्नमेंट द्वारा अपनाते हुए इंडियन पैनल कोर्ट की स्थापना की गई इंडियन पैनल कोर्ट में कई सारे कानून ऐसे हैं जो कि विचार करने योग्य स्किन को अभी बदल जाना चाहिए क्योंकि और 2018 में या इस समय में उस कानून की आवश्यकता बिल्कुल नहीं है मुझे लगता है इसके लिए उन्हें जैसे कि मोदी जी ने बताया क्यों नहीं कमेटी बैठाई है जो संविधान से फालतू कीजिए नियम कायदे कानून और संविधान किस के बाहर जो बने हुए हैं उनको हटा रही है और उसमें c i c आईपीसी और सीआरपीसी भी है इन दोनों में से काफी सारे कानून प्रधानमंत्री द्वारा एक कमेटी बनाकर हटा दिए गए हैं और मुझे लगता है कि कुछ कानून ऐसे हैं जिन पर भी विचार करना चाहिए इसके अलावा अगर आप बात करें कि हर एक कानून इतना खराब नहीं है कुछ कानून जो है वह महिलाओं के हितों की रक्षा करते हैं दलितों के हितों की रक्षा करते हैं इसके अलावा एससी एसटी एक्ट ह्यूमन राइट एक्ट और सिविल सेव इलेक्ट्रिसिटी एक्ट जो है वह यूनाइटेड नेशन द्वारा बनाई गई या तो या फिर हमारी गवर्नमेंट द्वारा एडिट की हुई है तो मुझे लगता नहीं है कि बहुत बड़ा बदलाव की जरूरत है हां अगर किसी पर्टिकुलर नियम कायदे कानून में परेशानी हो तो उसका विवाद का निपटारा जरूर आना चाहिए से सुप्रीम कोर्ट में केस चल रहा है कि 18 वर्ष से कम उम्र की लड़की अगर शादीशुदा है तब भी उसे उसके साथ शारीरिक संबंध को रेप माना जाएगा तो इस तरह की कानूनों में बदलाव की आवश्यकता है और ज्यादा करो ज्यादा करूं ठीक-ठाक बनी हुई थैंक यू

angrejo dwara banaye gaye panel court ko baad mein indian government dwara apanate hue indian panel court ki sthapna ki gayi indian panel court mein kai saare kanoon aise hain jo ki vichar karne yogya skin ko abhi badal jana chahiye kyonki aur 2018 mein ya is samay mein us kanoon ki avashyakta bilkul nahi hai mujhe lagta hai iske liye unhe jaise ki modi ji ne bataya kyon nahi committee baithaai hai jo samvidhan se faltu kijiye niyam kayade kanoon aur samvidhan kis ke bahar jo bane hue hain unko hata rahi hai aur usme c i c ipc aur crpc bhi hai in dono mein se kaafi saare kanoon pradhanmantri dwara ek committee banakar hata diye gaye hain aur mujhe lagta hai ki kuch kanoon aise hain jin par bhi vichar karna chahiye iske alava agar aap baat kare ki har ek kanoon itna kharab nahi hai kuch kanoon jo hai vaah mahilaon ke hiton ki raksha karte hain dalito ke hiton ki raksha karte hain iske alava SC ST act human right act aur civil save electricity act jo hai vaah united nation dwara banai gayi ya toh ya phir hamari government dwara edit ki hui hai toh mujhe lagta nahi hai ki bahut bada badlav ki zarurat hai haan agar kisi particular niyam kayade kanoon mein pareshani ho toh uska vivaad ka niptara zaroor aana chahiye se supreme court mein case chal raha hai ki 18 varsh se kam umr ki ladki agar shaadishuda hai tab bhi use uske saath sharirik sambandh ko rape mana jaega toh is tarah ki kanuno mein badlav ki avashyakta hai aur zyada karo zyada karu theek thak bani hui thank you

अंग्रेजों द्वारा बनाए गए पैनल कोर्ट को बाद में इंडियन गवर्नमेंट द्वारा अपनाते हुए इंडियन प

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  152
WhatsApp_icon
user

Sampat Techno

Welcome to my YouTube channel "Sampat Techno"

0:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यहां पर आपका पर्सनल क्या भारत में अंग्रेजों द्वारा बनाए गए पुलिस अधिनियम में संशोधन करना चाहिए बिल्कुल भी करना चाहिए और करने की जरूरत भी है कि कभी न्यू मॉडल न्यू के अकॉर्डिंग जो है उसमें नया पता करना चाहिए लेकिन सरकार सोई हुई है उसे नींद कब खुले हो कब बदले यह कोई नहीं जानता मुझे भी पता नहीं

yahan par aapka personal kya bharat me angrejo dwara banaye gaye police adhiniyam me sanshodhan karna chahiye bilkul bhi karna chahiye aur karne ki zarurat bhi hai ki kabhi new model new ke according jo hai usme naya pata karna chahiye lekin sarkar soi hui hai use neend kab khule ho kab badle yah koi nahi jaanta mujhe bhi pata nahi

यहां पर आपका पर्सनल क्या भारत में अंग्रेजों द्वारा बनाए गए पुलिस अधिनियम में संशोधन करना च

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  138
WhatsApp_icon
user

Apurva D

Optimistic Coder

2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लेकिन मुझे तो लगता है कि मतलब भारत में जो अंग्रेजों द्वारा बनाए गए पुलिस अधिनियम है तो उनको जरूर बदलना चाहिए क्योंकि 59806 जब से अंग्रेजों ने नियम बनाए हैं कानून है जब से वह गया है और हालांकि उसके साथ क्यों की स्वतंत्रता के बाद हमारी दो पीढ़ियां गुजर रही तो फिर तभी मैं अभी पुलिस का वर्क मैसेज दिखाई नहीं दे गया है आ गया है कुछ नहीं सच है जो कि अच्छे काम करते हैं अधिनियम का पालन करते हैं मैं कुछ तो ऐसे हैं कि जो मतलब पुलिस के अधिनियम ही नहीं बसते हैं कुछ लोग पॉलिटिक्स के पार्टियों में आकर या फिर किसी विषय में ऐसे भ्रष्ट हो जाते हैं तो उसमें मतलब जिनके पर हम भरोसा डालते हैं कि वह जनता की रक्षा करेगा जनता से जो चोर उचक्के उन से बचाएगा तो वही लोग ऐसा कदम उठा रहे हैं हालांकि उनके लिए सबसे ज्यादा नहीं है तो उस उन पुलिस अधिनियम को हमें बदलना पड़ेगा और उनकी पूरी तरीके से मतलब जो पुलिस के जैसे पकड़ जो बड़े लोग हैं उनको अगर पकड़ा तो अब से आधे नाश्ता पुलिस और कानूनी मदद बरेली की बहुत जरूरत है कि वह बुरा आदमी टाइप का है मतलब गांधीवाद था गांधीवाद छोड़कर उसके पहले भी मतलब जब बाबर मुग़ल राज करेंगे तभी पुलिस थाना उनका तब अलग था उनके सोच विचार से था वह पूरा पुलिस का दिन है अभी हमारी सोच विचार से बड़ा बनना चाहिए या उसकी X कन्नड़ है

lekin mujhe toh lagta hai ki matlab bharat mein jo angrejo dwara banaye gaye police adhiniyam hai toh unko zaroor badalna chahiye kyonki 59806 jab se angrejo ne niyam banaye hain kanoon hai jab se vaah gaya hai aur halaki uske saath kyon ki swatantrata ke baad hamari do peedhiyaan gujar rahi toh phir tabhi main abhi police ka work massage dikhai nahi de gaya hai aa gaya hai kuch nahi sach hai jo ki acche kaam karte hain adhiniyam ka palan karte hain main kuch toh aise hain ki jo matlab police ke adhiniyam hi nahi baste hain kuch log politics ke partiyon mein aakar ya phir kisi vishay mein aise bhrasht ho jaate hain toh usme matlab jinke par hum bharosa daalte hain ki vaah janta ki raksha karega janta se jo chor uchakke un se bachega toh wahi log aisa kadam utha rahe hain halaki unke liye sabse zyada nahi hai toh us un police adhiniyam ko hamein badalna padega aur unki puri tarike se matlab jo police ke jaise pakad jo bade log hain unko agar pakada toh ab se aadhe nashta police aur kanooni madad bareilly ki bahut zarurat hai ki vaah bura aadmi type ka hai matlab gandhivad tha gandhivad chhodkar uske pehle bhi matlab jab babar mughal raj karenge tabhi police thana unka tab alag tha unke soch vichar se tha vaah pura police ka din hai abhi hamari soch vichar se bada banna chahiye ya uski X kannada hai

लेकिन मुझे तो लगता है कि मतलब भारत में जो अंग्रेजों द्वारा बनाए गए पुलिस अधिनियम है तो उनक

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  149
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!