क्या केंद्रीय बजट केवल कागज पर अच्छा दिखता है या क्या यह यथार्थवादी होगा? क्यों?...


play
user

Abhishek Sharma

Forest Range Officer, MP

2:00

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इस वर्ष के बजट की बात करें तो हमने कुछ चीजें उम्मीद की थी वह चीज तो मिली नहीं साथ में कुछ ऐसी चीजें मिली जिसके बारे में हमने कल्पना नहीं की थी इसके अलावा कुछ चीजें ऐसी ही मेरी जो हम उम्मीद कर रहे थे कि हमें मिलेंगे लेकिन वह नहीं मिली तो बजट कुल मिलाकर एवरेज रहा जैसे की अगर बात की जाए किसानों के लिए उम्मीद की जा रही थी कोई बड़ी घोषणा हो सकती है तो किसानों के लिए काफी बड़ा बजट प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुरू किया है इसके अलावा मेडिकल सुविधाओं के लिए 500000 तक हर 500000000 गरीब व्यक्तियों के लिए एक तरह की से ट्रीटमेंट के लिए रखा गया है तो यह दुनिया में अब तक की सबसे बड़ी एक मेडिकल ट्रीटमेंट की सेवा को चालू किया इसके अलावा और काफी सारी योजनाएं जो प्रधानमंत्री मोदी जी ने बताई थी रेलवे स्टेशन वाईफाई लगेगा रेलवे में सुविधा बढ़ेगी इसके अलावा कुछ उम्मीद की थी जैसे कि टेक्स्ट कि जो लिप्स है वह आगे बढ़ेगी लेकिन टेक्स्ट न्यूज़ आगे नहीं बढ़ी इसकी वजह सिर्फ एक पर्सेंट और बढ़ा दिया तो मध्यम वर्ग को छोड़ा x का जवाब आ गया उम्मीद की जाती के मध्य में को राहत दी जाएगी और जो अमीर व्यक्ति हैं यानी कि जो लोग ज्यादा पैसे वाले हैं उन लोगों पटक ज्यादा बढ़ा जाएगा लेकिन हुआ झूठ उल्टा ढाई सौ करोड़ टर्नओवर वाली कंपनियों को कर में छूट मिली जबकि होने चाहिए ताकि उनसे थोड़ा टेक्स्ट अधिक लिए जाना चाहिए था और जो हमारे एक मध्यमवर्गीय परिवार के लोग हैं उन लोगों को थोड़ा टेक्स्ट लिए मैं रहा दी जानी चाहिए थी हालांकि ₹40000 तक की मेडिकल सुविधाएं उसे टेक्स लिव क्रिकेट से बाहर रखी गई है लेकिन फिर भी अगर आपने सीरियस ले रखे लॉन्ग टाइम के लिए तो भी आप को टैक्स देना पड़ेगा तो कुल मिलाकर मिनट ऑनलाइन एवरेज रहा मिडिल क्लास व्यक्ति के लिए मैं कह सकता हूं बट अच्छा नहीं रहता था यह सब से उम्मीद की जा रही हो कि आप के जितने भी संसाधन है जैसे ETV फ्रीज पेट्रोल डीजल इन सब बातों को ज्यादा कुछ नहीं बनाया गया और अगर कुछ कैसे बढ़ाया गया है बाकी किसी पर कम तो नहीं किया गया है तो मुझे लगता है कि ओवरऑल बुलेट जूता वह मेंटेन करके बनाया गया 2019 के चुनावों को और ठीक-ठाक बदलता ना अच्छा था ना बोला था धन्यवाद

is varsh ke budget ki baat kare toh humne kuch cheezen ummid ki thi vaah cheez toh mili nahi saath mein kuch aisi cheezen mili jiske bare mein humne kalpana nahi ki thi iske alava kuch cheezen aisi hi meri jo hum ummid kar rahe the ki hamein milenge lekin vaah nahi mili toh budget kul milakar average raha jaise ki agar baat ki jaaye kisano ke liye ummid ki ja rahi thi koi badi ghoshana ho sakti hai toh kisano ke liye kaafi bada budget pradhanmantri narendra modi ne shuru kiya hai iske alava medical suvidhaon ke liye 500000 tak har 500000000 garib vyaktiyon ke liye ek tarah ki se treatment ke liye rakha gaya hai toh yah duniya mein ab tak ki sabse badi ek medical treatment ki seva ko chaalu kiya iske alava aur kaafi saree yojanaye jo pradhanmantri modi ji ne batai thi railway station wifi lagega railway mein suvidha badhegi iske alava kuch ummid ki thi jaise ki text ki jo lips hai vaah aage badhegi lekin text news aage nahi badhi iski wajah sirf ek percent aur badha diya toh madhyam varg ko choda x ka jawab aa gaya ummid ki jaati ke madhya mein ko rahat di jayegi aur jo amir vyakti hain yani ki jo log zyada paise waale hain un logo patak zyada badha jaega lekin hua jhuth ulta dhai sau crore turnover wali companion ko kar mein chhut mili jabki hone chahiye taki unse thoda text adhik liye jana chahiye tha aur jo hamare ek madhyamwargiye parivar ke log hain un logo ko thoda text liye main raha di jani chahiye thi halaki Rs tak ki medical suvidhaen use tax live cricket se bahar rakhi gayi hai lekin phir bhi agar aapne serious le rakhe long time ke liye toh bhi aap ko tax dena padega toh kul milakar minute online average raha middle class vyakti ke liye main keh sakta hoon but accha nahi rehta tha yah sab se ummid ki ja rahi ho ki aap ke jitne bhi sansadhan hai jaise ETV freeze petrol diesel in sab baaton ko zyada kuch nahi banaya gaya aur agar kuch kaise badhaya gaya hai baki kisi par kam toh nahi kiya gaya hai toh mujhe lagta hai ki overall bullet juta vaah maintain karke banaya gaya 2019 ke chunavon ko aur theek thak badalta na accha tha na bola tha dhanyavad

इस वर्ष के बजट की बात करें तो हमने कुछ चीजें उम्मीद की थी वह चीज तो मिली नहीं साथ में कुछ

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  145
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Swati

सुनो ..सुनाओ..सीखो!

1:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

रिकी सर अभी जो हीरोइन बजट पास हुआ उसमें जो जो वादे किए गए जैसे कि डिजिटल इंडिया को बढ़ावा मिलेगा 2022 तक किसी भी ब्लॉक नगर 50 पदों ज्यादा एक्टिव ऑपरेशन तो वहां पर एकलव्य स्कूल खुलेगा या फिर 24 नए मेडिकल कॉलेज खुलेंगे या फिर जो गंगा को साफ किया जाएगा दस्तूर एसोसिएशन बनाई जाएंगी वाटर सप्लाई पाठशाला सेटिंग्स में किया जाएगा कोई भी रेलवे स्टेशन में 25000 से ज्यादा अगर मतलब सीढ़ियां चढ़ने चढ़ने का है तो वहां पर एस्केलेटर अर्थ लगाए जाएंगे फ्री वाई-फाई होगा बुलेट ट्रेन का काम शुरू किया जाएगा 600 में जो रेलवे स्टेशन स्कोर वापस ली डेवलप किया जाएगा और भी ऐसे बहुत सारी चीजें हैं जो गवर्नमेंट हर साल 30% आता है तब वह पास की जाती हैं लेकिन उन पर एक ही क्यों संसाधन नहीं किया जाता जैसे गंगा साफ करने के बारे में बात कब से चल रही है आज तक तो गूंगा साहब ही नहीं है हर साल बस यही पास होते रहते हैं और उतना फायदा मतलब यह था ठीक है बोलने में चीज आसान होती है बट करना और उसको बहुत मुश्किल होता है ऐसा नहीं है कि गवर्नमेंट सब अच्छी नहीं कर सकती हो अजीत कर सकती है लेकिन काम करने की इच्छा भी तो होनी चाहिए उसके लिए तुझे यह बजट है यह पेपर पर बहुत अच्छा लगता है अगर एक भी क्यूट ना किया जाए तो अगर इस एग्जिट क्यूट किया जाए तो बिल जो है वह काफी अच्छा है इस बार इ बल्कि इस बार यह तो एक यह भी इस बात की है कि 12:00 सौ करोड़ रुपए अलॉट किए गए हर शामली के लिए ₹500000 1 साल के और ऐसे 10 करोड़ सावन को लाभ पहुंचा जाएगा और वर्ल्ड की सबसे बड़ी कॉमेंट कांटेक्ट प्रोग्राम है तो कैलगरी क्यूट हो तो बहुत अच्छा वरना वही बातें पेपर भी अच्छा लगेगा

riki sir abhi jo heroine budget paas hua usme jo jo waade kiye gaye jaise ki digital india ko badhawa milega 2022 tak kisi bhi block nagar 50 padon zyada active operation toh wahan par eklavya school khulega ya phir 24 naye medical college khulenge ya phir jo ganga ko saaf kiya jaega dastoor association banai jayegi water supply pathashala settings mein kiya jaega koi bhi railway station mein 25000 se zyada agar matlab sidhiyan chadhne chadhne ka hai toh wahan par escalator arth lagaye jaenge free why fai hoga bullet train ka kaam shuru kiya jaega 600 mein jo railway station score wapas li develop kiya jaega aur bhi aise bahut saree cheezen hai jo government har saal 30 aata hai tab vaah paas ki jaati hai lekin un par ek hi kyon sansadhan nahi kiya jata jaise ganga saaf karne ke bare mein baat kab se chal rahi hai aaj tak toh gunga saheb hi nahi hai har saal bus yahi paas hote rehte hai aur utana fayda matlab yah tha theek hai bolne mein cheez aasaan hoti hai but karna aur usko bahut mushkil hota hai aisa nahi hai ki government sab achi nahi kar sakti ho ajit kar sakti hai lekin kaam karne ki iccha bhi toh honi chahiye uske liye tujhe yah budget hai yah paper par bahut accha lagta hai agar ek bhi cute na kiya jaaye toh agar is exit cute kiya jaaye toh bill jo hai vaah kaafi accha hai is baar e balki is baar yah toh ek yah bhi is baat ki hai ki 12 00 sau crore rupaye alat kiye gaye har shamili ke liye Rs 1 saal ke aur aise 10 crore sawan ko labh pohcha jaega aur world ki sabse baadi comment Contact program hai toh kailagari cute ho toh bahut accha varna wahi batein paper bhi accha lagega

रिकी सर अभी जो हीरोइन बजट पास हुआ उसमें जो जो वादे किए गए जैसे कि डिजिटल इंडिया को बढ़ावा

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  155
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
aaj tak budget ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!