जीवन में भक्ति भावना का क्या महत्व हैं?...


play
user

S

other

1:27

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार दोस्तों मैं हूं प्रिया आप ने सवाल पूछा जीवन में भक्ति और भावना का क्या महत्व है जीवन में भक्ति और भावना कब्बो इंपोर्टेंस है क्योंकि भक्ति भावना आपको शांति दिलाती है एक सिक्योरिटी फील कर आती है जब आप भक्ति करते हैं ईश्वर की तो आप साइलेंट रहते हैं उस टाइम में आप अपना माइंड है उस दिन में आप की बलि ईश्वर की भक्ति करते सच्चे भाव से बातें करते हैं जब आप कंसंट्रेट करते हैं तो आपके अंदर से पॉजिटिव प्रेस निकलती हैं जो आपकी जो भी इच्छा है जो भी मनोकामना है जो भी आपका काम पेंडिंग है वह काम होने लगता है क्योंकि आपके अंदर से पॉजिटिव एनर्जी नहीं करती है उस टाइम में और तुझसे बात यह है कि हम कई बार बहुत परेशान हो जाते हैं हमें समझ नहीं आता कि हमें क्या करना चाहिए हम किसी भी चीजों से चिड़चिड़ा से वह जाते हैं किसी के साथ अच्छा बेड नहीं करते उसके बाद हमें ऐसा फील होता है यह लगता क्या के बाद जब हम कंसंट्रेट करते हैं गॉड के पास जाते हैं करते हैं तो हमें बहुत ज्यादा शांति का अनुभव होता है और हम हमसे साइलेंट हो जाते हैं और अपना वर्क करने लगते हैं और हम फिर किसी पर को देख नहीं होते धन्यवाद

namaskar doston main hoon priya aap ne sawaal poocha jeevan mein bhakti aur bhavna ka kya mahatva hai jeevan mein bhakti aur bhavna kabbo importance hai kyonki bhakti bhavna aapko shanti dilati hai ek Security feel kar aati hai jab aap bhakti karte hain ishwar ki toh aap silent rehte hain us time mein aap apna mind hai us din mein aap ki bali ishwar ki bhakti karte sacche bhav se batein karte hain jab aap concentrate karte hain toh aapke andar se positive press nikalti hain jo aapki jo bhi iccha hai jo bhi manokamana hai jo bhi aapka kaam pending hai vaah kaam hone lagta hai kyonki aapke andar se positive energy nahi karti hai us time mein aur tujhse baat yah hai ki hum kai baar bahut pareshan ho jaate hain hamein samajh nahi aata ki hamein kya karna chahiye hum kisi bhi chijon se chidchida se vaah jaate hain kisi ke saath accha bed nahi karte uske baad hamein aisa feel hota hai yah lagta kya ke baad jab hum concentrate karte hain god ke paas jaate hain karte hain toh hamein bahut zyada shanti ka anubhav hota hai aur hum humse silent ho jaate hain aur apna work karne lagte hain aur hum phir kisi par ko dekh nahi hote dhanyavad

नमस्कार दोस्तों मैं हूं प्रिया आप ने सवाल पूछा जीवन में भक्ति और भावना का क्या महत्व है ज

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  6
KooApp_icon
WhatsApp_icon
3 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

Related Searches:
भक्ति का महत्व ;

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!