फिल्मों में पुलिस की छवि इतनी खराब और गिरी हूँ ई क्यों दिखाई जाती है?...


user

Yogender Dhillon

Law Educator , Advocate,RTI Activist , Motivational Coach

0:53
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखो तब हमारा देश गुलाम था उस टाइम में पुलिस की छवि ऐसी ही थी क्योंकि यह कैसी एजेंसी है जो समाज को मेंटेन करके रखती है उसी टाइम से वह गुलामी की दास्तां जैसे पढ़ी गई ना तो उसी हिसाब से ही हमारी पुलिस की छवि बनती चली गई और मारना पीटना गाली गलौज देना इस तरह की चीजें पहले उन्हीं लोगों को लिया जाता था जो इस तरह के काम कर सकते हैं लेकिन अब धीरे-धीरे चीजें बदली हैं और अब छवि को बदलने में टाइम लगता है एक बार चीज बिगड़ जाती है ना उसको सदिया लग जाता है सुधारने में तो माइंड नहीं आ गया है कि पुलिस अच्छी नहीं होती है बाकी ऐसा नहीं है आजकल की पुलिस बहुत सतर्क है बहुत ध्यान से काम करती है और रीजनेबल और जस्टिस के काम करने की कोशिश करती है बहुत तेजी से सुधार आ रहा पुलिस डिपार्टमेंट की

dekho tab hamara desh gulam tha us time me police ki chhavi aisi hi thi kyonki yah kaisi agency hai jo samaj ko maintain karke rakhti hai usi time se vaah gulaami ki dastan jaise padhi gayi na toh usi hisab se hi hamari police ki chhavi banti chali gayi aur marna pitana gaali galoj dena is tarah ki cheezen pehle unhi logo ko liya jata tha jo is tarah ke kaam kar sakte hain lekin ab dhire dhire cheezen badli hain aur ab chhavi ko badalne me time lagta hai ek baar cheez bigad jaati hai na usko sadiya lag jata hai sudhaarne me toh mind nahi aa gaya hai ki police achi nahi hoti hai baki aisa nahi hai aajkal ki police bahut satark hai bahut dhyan se kaam karti hai aur reasonable aur justice ke kaam karne ki koshish karti hai bahut teji se sudhaar aa raha police department ki

देखो तब हमारा देश गुलाम था उस टाइम में पुलिस की छवि ऐसी ही थी क्योंकि यह कैसी एजेंसी है जो

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  280
KooApp_icon
WhatsApp_icon
3 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!