मेरे मन में ज़रूरत से ज़्यादा कल्पनाएँ आती है, जिसके कारण मैं ढंग से ऑफ़िस में काम भी नहीं कर पाता हूँ, तो मैं इन कल्पनाओं को अपने दिमाग में आने से कैसे रोकूँ?...


user

Sanam Kumar

Life Coach

1:24
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो गुड इवनिंग आपने यह क्वेश्चन भेज कर आएगी मेरे पास ऑफिस में बहुत जरूरत से ज्यादा कल्पनाएं हाथी आंसर यह कोई वैज्ञानिक वैज्ञानिक जवाब नहीं है पर आउट ऑफ माय एक्सपीरियंस इंसान के दो तरह के होते हैं आप कौन से स्मार्ट में जब काम में लगाते हैं सबकॉन्शियस माइंड आपका इधर उधर भटकता है जिसमें आपके दिमाग में नकारात्मक सोच आती है या और 10 तरह की जाती है विधि और वीडियो स्टूडियो बैकग्राउंड एक्सपीरियंस अपना काम करते हैं एक अपने पास एक छोटा सा कुछ ढीली हो गया मोबाइल पर आप गाने सुनते हल्की सी आवाज में काम करता रहेगा सबकॉन्शियस माइंड गानों में विद्वानों में अगर आपका कंसंट्रेशन काम से हटके कहीं जाएगा अभी ऐड दी मोस्ट गाने टकरा के वापस आ जा और थोड़ी देर बाद उस ठाकरान के बाद कॉन्शियस माइंड सबकॉन्शियस माइंड दोनों एकाग्रता से एक काम में लग जाएंगे उसके बाद आपको सोचा निबंध

hello good evening aapne yah question bhej kar aayegi mere paas office mein bahut zarurat se zyada kalpanaen haathi answer yah koi vaigyanik vaigyanik jawab nahi hai par out of my experience insaan ke do tarah ke hote hain aap kaunsi smart mein jab kaam mein lagate hain subconscious mind aapka idhar udhar bhatakta hai jisme aapke dimag mein nakaratmak soch aati hai ya aur 10 tarah ki jaati hai vidhi aur video studio background experience apna kaam karte hain ek apne paas ek chota sa kuch dhili ho gaya mobile par aap gaane sunte halki si awaaz mein kaam karta rahega subconscious mind gaano mein vidvaano mein agar aapka kansantreshan kaam se hatake kahin jaega abhi aid di most gaane takara ke wapas aa ja aur thodi der baad us thakran ke baad kanshiyas mind subconscious mind dono ekagrata se ek kaam mein lag jaenge uske baad aapko socha nibandh

हेलो गुड इवनिंग आपने यह क्वेश्चन भेज कर आएगी मेरे पास ऑफिस में बहुत जरूरत से ज्यादा कल्पना

Romanized Version
Likes  20  Dislikes    views  743
WhatsApp_icon
11 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Subhash Kartik

NLP PerformanceCOACH

1:39

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बहुत सारी घूम रही है जो आपको आता ही करने के लिए क्योंकि हमारे हम अपने मन को कंट्रोल नहीं कर पाता और फादर हमारी बातें गोल और कोई सिचुएशन पर मैसेज करो करेंगे जो हमारे लिए नहीं हमेशा हमेशा चलती है

bahut saree ghum rahi hai jo aapko aata hi karne ke liye kyonki hamare hum apne man ko control nahi kar pata aur father hamari batein gol aur koi situation par massage karo karenge jo hamare liye nahi hamesha hamesha chalti hai

बहुत सारी घूम रही है जो आपको आता ही करने के लिए क्योंकि हमारे हम अपने मन को कंट्रोल नहीं क

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  3
WhatsApp_icon
user

Norang sharma

Social Worker

1:30
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी देखिए कल्पना तो आपकी एक खूबी हो सकती है क्या आपके मन में जरूरत से ज्यादा कल्पनाएं आती हैं तो शायद आप कुछ एक्स्ट्रा क्रिएटिव हैं तो आप ऑफिस में ठीक से काम नहीं कर पा रहे हो उसका रीजन आपकी कल्पना शक्ति नहीं है बल्कि आपका काम पर फोकस ना कर पाना उसकी वजह है अगर आप अपनी इमैजिनेशन को एक सही दिशा में ले कर के जा सके तो आप बहुत अच्छा काम कर सकते हैं आप अपने काम को बहुत ही अद्भुत तरीके से कर सकते हैं क्योंकि देखिए कोई भी चीज सबसे पहले हमारी कल्पनाओं में बनती है बाद में वह वास्तविक रूप में बदलती है यह हमारे सामने आती है आज विज्ञान के जितने भी आविष्कार जब हम देखते हैं तो यही समझ में आता है कि जिन भी वैज्ञानिकों ने जिस पर आविष्कारक ने उन्हें आज बनाया है वह दुनिया में तो बाद में बनाया है पहले कहां बनाया पहले अपने मन की कल्पना ओं में उसे बनाया तो यह तो बल्कि कुछ लोग तो कल्पना कर ही नहीं पाते तो यह आपका प्लस प्वाइंट भी हो सकता है कि आप बहुत ज्यादा गलत नहीं करते हैं तो कभी भी अपनी कमी को कमी की तरह मत देखें बल्कि कुछ ऐसा करें कि आप की कमी ही आपकी खूबी बन जाए आप की सबसे बड़ी कमजोरी भी आप की ताकत बन सकती है बशर्ते अगर आप अपनी क्षमताओं को सही दिशा में इस्तेमाल करना जान जाए धन्यवाद

ji dekhiye kalpana toh aapki ek khoobi ho sakti hai kya aapke man mein zarurat se zyada kalpanaen aati hai toh shayad aap kuch extra creative hai toh aap office mein theek se kaam nahi kar paa rahe ho uska reason aapki kalpana shakti nahi hai balki aapka kaam par focus na kar paana uski wajah hai agar aap apni imaijineshan ko ek sahi disha mein le kar ke ja sake toh aap bahut accha kaam kar sakte hai aap apne kaam ko bahut hi adbhut tarike se kar sakte hai kyonki dekhiye koi bhi cheez sabse pehle hamari kalpanaaon mein banti hai baad mein vaah vastavik roop mein badalti hai yah hamare saamne aati hai aaj vigyan ke jitne bhi avishkar jab hum dekhte hai toh yahi samajh mein aata hai ki jin bhi vaigyaniko ne jis par avishkarak ne unhe aaj banaya hai vaah duniya mein toh baad mein banaya hai pehle kahaan banaya pehle apne man ki kalpana on mein use banaya toh yah toh balki kuch log toh kalpana kar hi nahi paate toh yah aapka plus point bhi ho sakta hai ki aap bahut zyada galat nahi karte hai toh kabhi bhi apni kami ko kami ki tarah mat dekhen balki kuch aisa kare ki aap ki kami hi aapki khoobi ban jaaye aap ki sabse baadi kamzori bhi aap ki takat ban sakti hai basharte agar aap apni kshamataon ko sahi disha mein istemal karna jaan jaaye dhanyavad

जी देखिए कल्पना तो आपकी एक खूबी हो सकती है क्या आपके मन में जरूरत से ज्यादा कल्पनाएं आती ह

Romanized Version
Likes  16  Dislikes    views  389
WhatsApp_icon
user

Shipra Ranjan

Life Coach

0:51
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल है कि मेरे मन में दर्द तो ज्यादा कल्पनाएं आती हैं जिसके कारण में ढंग से ऑफिस में काम ही नहीं कर पाता हूं तो मैं कल्पना उसको अपने दिमाग से कहने से कैसे लोगों को जरूरत है आपको मैं कंसंट्रेशन लेवल को बढ़ाने के लिए आप मेडिटेशन का सहारा ले सकते हैं कल्पना हूं मैं जीने से मतलब कि कल अपनी दुनिया में या सपनों की दुनिया में जीने से कुछ भी हासिल नहीं होता है यह बात समझना बेहद जरूरी है जिंदगी में आपको चीज है तभी मिलेंगे जब आप मेहनत करेंगे रियल लाइफ में और तभी आपकी की गई कोशिशों की आपको सफलता मिलेगी आपको लक्ष्य प्राप्ति होगी जो आप चाहते हैं अपने जीवन से अपने आपसे केवल कल्पना की दुनिया में जीते लेने से आपको कुछ भी नहीं मिलेगा तो साले से बाहर आकर के रियल लाइफ रियल सिचुएशन समझना बेहद जरूरी है अपने कंसंट्रेशन लेवल को बढ़ाइए और खुद को यह जल्द से जल्द समझाइए की रियल लाइफ में जो है वही सच है आपका दिन शुभ रहे धन्यवाद

aapka sawaal hai ki mere man mein dard toh zyada kalpanaen aati hain jiske karan mein dhang se office mein kaam hi nahi kar pata hoon toh main kalpana usko apne dimag se kehne se kaise logo ko zarurat hai aapko main kansantreshan level ko badhane ke liye aap meditation ka sahara le sakte hain kalpana hoon main jeene se matlab ki kal apni duniya mein ya sapno ki duniya mein jeene se kuch bhi hasil nahi hota hai yah baat samajhna behad zaroori hai zindagi mein aapko cheez hai tabhi milenge jab aap mehnat karenge real life mein aur tabhi aapki ki gayi koshishon ki aapko safalta milegi aapko lakshya prapti hogi jo aap chahte hain apne jeevan se apne aapse keval kalpana ki duniya mein jeete lene se aapko kuch bhi nahi milega toh saale se bahar aakar ke real life real situation samajhna behad zaroori hai apne kansantreshan level ko badhaiye aur khud ko yah jald se jald samjhaiye ki real life mein jo hai wahi sach hai aapka din shubha rahe dhanyavad

आपका सवाल है कि मेरे मन में दर्द तो ज्यादा कल्पनाएं आती हैं जिसके कारण में ढंग से ऑफिस में

Romanized Version
Likes  404  Dislikes    views  5085
WhatsApp_icon
user

Rakesh Tiwari

Life Coach, Management Trainer

2:04
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरे मन में जुगाड़ से ज्यादा कमाते हैं उसे कार में ढंग से ऑफिस में काम में नहीं कर पाता हूं तुम सुनाओ अपने दिमाग में आने से कैसे शॉपिंग कल्पनाओं को रोकने का प्रयास नहीं करना चाहिए जो कल्पनाएं हैं वह हमारे विचारों की उड़ान हैं और कितनी दूर तक हमारे विचार जाते हैं चारों को फैलाओ होता है उतना बुरहान एवं व्यापक हमारी सोच विकसित होती है तो क्यों कल्पनाएं हैं वह आपकी क्रिएटिविटी का द्योतक हैं बल्कि मैं तो यह कह रहा हूं कि ऑफिस से कुछ समय निकालकर अपने पेशेवर जिंदगी से कुछ समय निकालकर जय सुबह या ऑफिस से लौटने के बाद शाम को आधे घंटे 35 मिनट केवल अपनी कल्पनाओं के संसार में रहे तो हो सकता जो कल्पनाएं आप करते हैं वह आपके अवचेतन तक पहुंचे और एक दिन इसका की कल्पनाओं को साकार करने की अच्छी बात है लेकिन इसके लिए आप समय अलग से निकाले एक समय समय में आप जो काम हाथ में लेते हैं उस समय वही काम करें अगर आप ऑफिस जाते हैं ऑफिस के काम में जब तक ऑफिस में हैं कि ऑफिस के बारे में सोचें ऑफिस का काम करें लेकिन अपने स्वभाव की इस विविधता को बनाए रखने के लिए या की मॉर्निंग आपस में सुबह उठने के बाद आप आधे घंटे अपने कल्पनाओं के संसार में या फिर से लौटने के बाद संधि काल में सूर्यास्त के पश्चात अंधेरा होने के पहले उस कार में आप फिर से बैठे किसी ध्यान वाले में टेंशन वाले कमरे में अपनी कल्पनाओं के संस्कार को अध्यापक करें आप देखेंगे कि आगे पीछे हो सकता है तो कल्पनाएं आप की सक्रियता को मौलिक तब इतना बड़ा दें वही आपका जीवन में और आपके जीवन में चमत्कार करने थैंक यू

mere man mein jugaad se zyada kamate hain use car mein dhang se office mein kaam mein nahi kar pata hoon tum sunao apne dimag mein aane se kaise shopping kalpanaaon ko rokne ka prayas nahi karna chahiye jo kalpanaen hain vaah hamare vicharon ki udaan hain aur kitni dur tak hamare vichar jaate hain charo ko failao hota hai utana burhan evam vyapak hamari soch viksit hoti hai toh kyon kalpanaen hain vaah aapki creativity ka dyotak hain balki main toh yah keh raha hoon ki office se kuch samay nikalakar apne peshevar zindagi se kuch samay nikalakar jai subah ya office se lautne ke baad shaam ko aadhe ghante 35 minute keval apni kalpanaaon ke sansar mein rahe toh ho sakta jo kalpanaen aap karte hain vaah aapke avachetan tak pahuche aur ek din iska ki kalpanaaon ko saakar karne ki achi baat hai lekin iske liye aap samay alag se nikale ek samay samay mein aap jo kaam hath mein lete hain us samay wahi kaam kare agar aap office jaate hain office ke kaam mein jab tak office mein hain ki office ke bare mein sochen office ka kaam kare lekin apne swabhav ki is vividhata ko banaye rakhne ke liye ya ki morning aapas mein subah uthane ke baad aap aadhe ghante apne kalpanaaon ke sansar mein ya phir se lautne ke baad sandhi kaal mein suryaast ke pashchat andhera hone ke pehle us car mein aap phir se baithe kisi dhyan waale mein tension waale kamre mein apni kalpanaaon ke sanskar ko adhyapak kare aap dekhenge ki aage peeche ho sakta hai toh kalpanaen aap ki sakriyata ko maulik tab itna bada de wahi aapka jeevan mein aur aapke jeevan mein chamatkar karne thank you

मेरे मन में जुगाड़ से ज्यादा कमाते हैं उसे कार में ढंग से ऑफिस में काम में नहीं कर पाता हू

Romanized Version
Likes  219  Dislikes    views  1777
WhatsApp_icon
user

Aditi Garg

Meditation Expert

1:26
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है कि मेरे मन में जरूरत से ज्यादा कहां का कल्पना ही आती है जिसे कारण में ढूंढा ऑफिस में काम भी नहीं कर पाता हूं तो मैं अपनी कल्पनाओं को कैसे कंट्रोल करूं देखें सीधी से भी ज्यादा कल्पना रही है इसका मतलब आप फिजिकली मेंटली फिट महसूस नहीं कर रहा है या नहीं लाई इसमें जो होना चाहिए वह गायब हो गया है तो इसके लिए आप क्या कर सकते हैं आप योगा ज्वाइन कर सकते आप अगर आपकी बॉडी मिस्ट फैन है कॉफी शॉप जोगिंग करने जा सकते हैं कोई ऐसे एक्टिविटी ज्वाइन कीजिए जिससे आपको बहुत पसीना आए अब हो सकता है रोज मॉर्निंग में एक घंटा बैडमिंटन खेल लीजिए या एक घंटा स्पोर्ट्खेल लीजिए या फुटबॉल खेल लीजिए या कोई भी ऐसा गेम ज्वाइन कर लीजिए जिससे आपको बहुत अर्जेंट है कि फेल हो आप को बहुत पसीना आए जब आप पसीना आना लगेगा तो आपकी बॉडी में बहुत फ्रेंड फेल होगी और आप पाएंगे कि यह जो कल्पना है आपके माइंड में आ रही है यह सारी दूर हो जाएंगी आप बहुत पेंशन फील करेंगे ऑफिस में आपका फोकस बढ़ेगा और आप पाएंगे कि आप बहुत खुशियां एक हो गए हैं आप बहुत खुश है जिंद लाइफ में तो 12 बोरा लैपटॉप हो जाएगा लाइफ में आप बहुत खुश रहने लगेंगे फोकस अटेंशन सब बढ़ने लगेगा तो मेरी सलाह होगी कि हो सके तो एक डेढ़ घंटा कोई गेम खेलिए या फिर आप वाकिंग कर सकते हैं रनिंग कर सकते हैं जोगिंग कर सकते हैं या अंतर्गत योगा कर सकते हैं इन सब में से किसी भी चीज को ज्वाइन कर लीजिए और ऐसा कोई काम कर ही रिश्ता को पसीना है तो आप आएंगे जी आपकी कल्पना बिल्कुल खत्म होती जाएंगी फोकस बढ़ता जाएगा थैंक यू

aapka prashna hai ki mere man mein zarurat se zyada kahaan ka kalpana hi aati hai jise karan mein dhundha office mein kaam bhi nahi kar pata hoon toh main apni kalpanaaon ko kaise control karu dekhen seedhi se bhi zyada kalpana rahi hai iska matlab aap physically mentally fit mehsus nahi kar raha hai ya nahi lai isme jo hona chahiye vaah gayab ho gaya hai toh iske liye aap kya kar sakte hain aap yoga join kar sakte aap agar aapki body mist fan hai coffee shop jogging karne ja sakte hain koi aise activity join kijiye jisse aapko bahut paseena aaye ab ho sakta hai roj morning mein ek ghanta Badminton khel lijiye ya ek ghanta sportkhel lijiye ya football khel lijiye ya koi bhi aisa game join kar lijiye jisse aapko bahut urgent hai ki fail ho aap ko bahut paseena aaye jab aap paseena aana lagega toh aapki body mein bahut friend fail hogi aur aap payenge ki yah jo kalpana hai aapke mind mein aa rahi hai yah saree dur ho jayegi aap bahut pension feel karenge office mein aapka focus badhega aur aap payenge ki aap bahut khushiya ek ho gaye hain aap bahut khush hai jind life mein toh 12 bora laptop ho jaega life mein aap bahut khush rehne lagenge focus attention sab badhne lagega toh meri salah hogi ki ho sake toh ek dedh ghanta koi game kheliye ya phir aap Walking kar sakte hain running kar sakte hain jogging kar sakte hain ya antargat yoga kar sakte hain in sab mein se kisi bhi cheez ko join kar lijiye aur aisa koi kaam kar hi rishta ko paseena hai toh aap aayenge ji aapki kalpana bilkul khatam hoti jayegi focus badhta jaega thank you

आपका प्रश्न है कि मेरे मन में जरूरत से ज्यादा कहां का कल्पना ही आती है जिसे कारण में ढूंढा

Romanized Version
Likes  192  Dislikes    views  1657
WhatsApp_icon
user

Minu Nijhawan

NLP Life N Wellness Coach /Reiki Master/ Author

2:52
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आंखें बंद में जगत से ज्यादा कल्पनाएं आती हैं जिसके कारण आप अपना ऑफिस में काम भी नहीं कर पाते हैं तो इस सब को अपने दिमाग से आप कैसे निकाले आने के सबसे पहले तो आप यह समझे कि कल्पना तो कल्पना है नहीं और लेकिन मैं साथ में यह भी कहना चाहूंगी कल्पना यदि सही डायरेक्शन में है तो उस कल्पना शक्ति से आप कुछ भी मैंने टेस्ट कर सकते हैं बट आप के केस में मुझे लग रहा है कि वह कल्पना शायद सोच है जिसकी वजह से हम अल्टीमेटली डिस्टर्ब हो रहे हैं तो सबसे पहले आपको जैसे ही आपका मन भागना शुरु करता है मन भागता है आप मन को कॉल कीजिए खुद से बोलिए फुल स्टॉप लगाइए और प्रेजेंट सिचुएशन में आ जाएगी उसी टाइम देखिए अपने आसपास अवेयर हुई अपने आसपास की जगह से और आपका मन धीरे-धीरे प्रेक्टिस से ऑपरेशन पर रहना कल्पना कब आती है या तो जब हम फ्यूचर में बहुत ज्यादा रहते हैं या हम पास में रहते हैं और पास क्या है पास 15 एस डेडलाइन टो डेड चीजों के बारे में जितना सोचेंगे उतना खुद का नुकसान करेंगे एंड फ्यूचर फ्यूचर फ्यूचर हम अधिकतर जब भी हम फ्यूचर के बारे में सोचते हैं अगर हम नेगेटिव थॉट्स में हैं तो वह हम बहुत ज्यादा इनसिक्योरिटी में चले जाते हैं ऐसा तो नहीं हो जाएगा कहीं ऐसा ना हो जाए मेरे साथ ऐसा ना हो कि बहुत सी बातें तो इसके लिए एक और तरीका है कि मॉर्निंग में आ पांच 10 मिनट का एक मेडिटेशन सेशन कीजिए जिससे आपका मैं आपका कौन सेंट्रेशन पावर बहुत बढ़ेगी आफ हैप्पीनेस में रहना करोगे और जब आप हैप्पी रहना शुरु होंगे कौन पेशन भी बढ़ेगी तो आपकी पिक कल पता है वह कहीं ना कहीं नेकेड नहीं रहे हैं की तरफ कन्वर्ट होगी कल्पना लाइक दे बलम करना करने में फ्यूचर के लिए भी सोचते हैं और यह अल्प टाइम पर जब आप पहुंच जाएंगे फुल स्टॉप लगाएंगे और अपने मन को खींचकर लेकर आएंगे प्रेजेंट सिचुएशन में तो भी आपको बहुत हेल्प में लेकर उससे तो आप कीजिए और अगर डिटेल में आप बात करना चाहते हैं तो आप मुझे मेल कर सकते हैं और विश यू वेरी हैप्पी ऑफ यू थैंक यू सो मच

aankhen band mein jagat se zyada kalpanaen aati hain jiske karan aap apna office mein kaam bhi nahi kar paate hain toh is sab ko apne dimag se aap kaise nikale aane ke sabse pehle toh aap yah samjhe ki kalpana toh kalpana hai nahi aur lekin main saath mein yah bhi kehna chahungi kalpana yadi sahi direction mein hai toh us kalpana shakti se aap kuch bhi maine test kar sakte hain but aap ke case mein mujhe lag raha hai ki vaah kalpana shayad soch hai jiski wajah se hum altimetli disturb ho rahe hain toh sabse pehle aapko jaise hi aapka man bhaagna shuru karta hai man bhagta hai aap man ko call kijiye khud se bolie full stop lagaaiye aur present situation mein aa jayegi usi time dekhiye apne aaspass aveyar hui apne aaspass ki jagah se aur aapka man dhire dhire practice se operation par rehna kalpana kab aati hai ya toh jab hum future mein bahut zyada rehte hain ya hum paas mein rehte hain aur paas kya hai paas 15 s deadline toe dead chijon ke bare mein jitna sochenge utana khud ka nuksan karenge and future future future hum adhiktar jab bhi hum future ke bare mein sochte hain agar hum Negative thoughts mein hain toh vaah hum bahut zyada inasikyoriti mein chale jaate hain aisa toh nahi ho jaega kahin aisa na ho jaaye mere saath aisa na ho ki bahut si batein toh iske liye ek aur tarika hai ki morning mein aa paanch 10 minute ka ek meditation session kijiye jisse aapka main aapka kaun sentreshan power bahut badhegi of Happiness mein rehna karoge aur jab aap happy rehna shuru honge kaun peshan bhi badhegi toh aapki pic kal pata hai vaah kahin na kahin naked nahi rahe hain ki taraf convert hogi kalpana like de balam karna karne mein future ke liye bhi sochte hain aur yah alp time par jab aap pohch jaenge full stop lagayenge aur apne man ko khichkar lekar aayenge present situation mein toh bhi aapko bahut help mein lekar usse toh aap kijiye aur agar detail mein aap baat karna chahte hain toh aap mujhe male kar sakte hain aur wish you very happy of you thank you so match

आंखें बंद में जगत से ज्यादा कल्पनाएं आती हैं जिसके कारण आप अपना ऑफिस में काम भी नहीं कर पा

Romanized Version
Likes  53  Dislikes    views  457
WhatsApp_icon
user

Pankaj Kr(youtube -AJ PANKAJ MATHS GURU)

Motivational Speaker/YouTube-AJ PANKAJ MATHS GURU

0:55
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सबसे पहले आप लोग अपने मन में आने वाले काटने की विचारधारा करो कि इसके लिए आप अपने आप को पूरा काम में बिजी कर लेंगे उनका ध्यान काम पर होगा जो आप काम करना चाहते हैं इसलिए आप जरुर से ज्यादा कल्पना नहीं करें अनावश्यक ना सोचा हमेशा प्रोजेक्ट निशान काम करें जो मुसीबत आती है उसे दूर करने का कोशिश करें वर्तमान मुझे भविष्य की चिंता नहीं करें जुपिटर के बारे प्रजेंट एंड पूजा ट्विस्टिंग एडवोकेट शिव अमृतवाणी जिंदा की जनता को अपने दिमाग से निकालने जो रियलिटी है जो वास्तविकता है उस पर उस पर उस पर ध्यान देना चाहिए

sabse pehle aap log apne man mein aane waale katne ki vichardhara karo ki iske liye aap apne aap ko pura kaam mein busy kar lenge unka dhyan kaam par hoga jo aap kaam karna chahte hain isliye aap zaroor se zyada kalpana nahi kare anavashyak na socha hamesha project nishaan kaam kare jo musibat aati hai use dur karne ka koshish kare vartaman mujhe bhavishya ki chinta nahi kare Jupiter ke bare present and puja twisting advocate shiv amritwani zinda ki janta ko apne dimag se nikalne jo reality hai jo vastavikta hai us par us par us par dhyan dena chahiye

सबसे पहले आप लोग अपने मन में आने वाले काटने की विचारधारा करो कि इसके लिए आप अपने आप को पूर

Romanized Version
Likes  56  Dislikes    views  361
WhatsApp_icon
user

Chaina Karmakar

Spiritual Healer & Life Coach

1:59
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अपने लिखना है क्या आपको पता है आती है जिसके कारण उत्पन्न हो जाती है और एक व्यक्ति के घर में जाने के लिए कुछ याद करो अपने आप पर

apne likhna hai kya aapko pata hai aati hai jiske karan utpann ho jaati hai aur ek vyakti ke ghar mein jaane ke liye kuch yaad karo apne aap par

अपने लिखना है क्या आपको पता है आती है जिसके कारण उत्पन्न हो जाती है और एक व्यक्ति के घर मे

Romanized Version
Likes  23  Dislikes    views  699
WhatsApp_icon
user

Ramesh Prajapati

||....Be....Legendary......||

1:46
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखे हमारा माइंड जो है ना यह देखिए जैसा पेट करेंगे वैसा ही आउटपुट देगा मैं चाहता हूं कि आप अपने दिमाग को फ्रेश रखी है टेंशन फ्री रखी और नेगेटिविटी को बाहर निकाल फेंके और आप ऑफिस जाते हैं ठीक ऑफिस जाते जाते भी मन में जरूरत से ज्यादा कल्पनाएं प्रभावित होती है देखिए मेरे मेरे हिसाब से तो यह है कि रिमाइंड जो अपना है ना यह माइंड में हमारा माइंड जो है एक मशीन है ठीक है इस मशीन में जैसे ऐसी चीजें ऐसी वैसी भरनी की चीजें निकलेगी तो अच्छी चीजें डाली है एकदम पॉजिटिव थिंकिंग डालेंगे तो बेहतर होगा तो आप इन को अगर आपको इनको अगर निकाल फेंकना है जब कल्पना है आपके मन में आते हैं उनको निकाल फेंकना है आपको तो देख इसकी शुरुआत आज से ही अभी से ही कर दीजिए कि मैं अपने अंदर कोई भी कल्पना ना लाऊं दिखे बहुत ही इजी है यह इतना मुश्किल भी नहीं है धीरे-धीरे देखिए अगर मैं आपसे बोलूं उसको आज अभी से निकाल दीजिए तो आज से ही उसको शुरुआत कीजिए कल अप्लाई करना बंद कर दीजिए और ऑफिस के टाइम पर ऑफिस जाने से पहले आपको बस यह रहने की हाल ही में ऑफिस जाऊंगा और ऑफिस ऑफिस का एक ख्याल रखना है इसका एक ख्याल रखना आप को और आप यह सोचें कि मैं ऑफिस जाऊंगा मैं अपना ये जो भी फॉर्मेट में अपनी पूरी करूंगा और अच्छे से सही ढंग से मैं अपना फोकस करूंगा सीधा ऑफिस पर और कल्पना देखे नहीं आएंगे आपके पास और अच्छा सोचिए और कल्पना ए को निकालते किया

dekhe hamara mind jo hai na yah dekhiye jaisa pet karenge waisa hi output dega main chahta hoon ki aap apne dimag ko fresh rakhi hai tension free rakhi aur negativity ko bahar nikaal faike aur aap office jaate hain theek office jaate jaate bhi man mein zarurat se zyada kalpanaen prabhavit hoti hai dekhiye mere mere hisab se toh yah hai ki remind jo apna hai na yah mind mein hamara mind jo hai ek machine hai theek hai is machine mein jaise aisi cheezen aisi vaisi bharani ki cheezen nikalegi toh achi cheezen dali hai ekdam positive thinking daalenge toh behtar hoga toh aap in ko agar aapko inko agar nikaal phenkana hai jab kalpana hai aapke man mein aate hain unko nikaal phenkana hai aapko toh dekh iski shuruat aaj se hi abhi se hi kar dijiye ki main apne andar koi bhi kalpana na laun dikhe bahut hi easy hai yah itna mushkil bhi nahi hai dhire dhire dekhiye agar main aapse bolu usko aaj abhi se nikaal dijiye toh aaj se hi usko shuruat kijiye kal apply karna band kar dijiye aur office ke time par office jaane se pehle aapko bus yah rehne ki haal hi mein office jaunga aur office office ka ek khayal rakhna hai iska ek khayal rakhna aap ko aur aap yah sochen ki main office jaunga main apna ye jo bhi format mein apni puri karunga aur acche se sahi dhang se main apna focus karunga seedha office par aur kalpana dekhe nahi aayenge aapke paas aur accha sochiye aur kalpana a ko nikalate kiya

देखे हमारा माइंड जो है ना यह देखिए जैसा पेट करेंगे वैसा ही आउटपुट देगा मैं चाहता हूं कि आप

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  398
WhatsApp_icon
user

alok Kumar Guesth781v

नमस्ते दोस्तों कैसे है।

1:28
Play

Likes  17  Dislikes    views  404
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!