श्री राम का परम भक्त कौन था?...


play
user

Karan Janwa

Automobile Engineer

1:27

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए भगवान श्रीराम के परम भक्त में से सबसे पहले आते हैं भगवान शिव श्रीराम समुद्र तट पर देखकर समुद्र से मार्ग देने की प्रथा कर रहे थे तो भगवान शिव का उन्होंने यार इतना किया था लेकिन भगवान श्री राम के भक्त हैं उसके बाद जो हनुमान जी से हनुमान जी भी बहुत समय से श्रीराम का इंतजार कर रहे थे वह भी भगवान राम के भक्त थे और उनके एक भक्त ने से माता शबरी भी थी क्षत्रिय शूद्र जाति की स्थिति भगवान श्री रामचंद्र के घर पर जाकर उनके हाथ से उनके झूठे बेर खाते हैं भगवान शिव भक्त हो सकता है भगवान का और उनके अंतिम पत्र थे विभीषण जो कि एक राक्षस कुल के थे और रावण का क्षेत्र था लेकिन विभीषण उनका पता तो भगवान के भक्त हैं उनमें स्वयं भगवान राम के भक्तों में से पहले तो महादेव आते हैं उसके बाद जो हनुमान जी आते हैं और एक शुद्ध महिला शबरी आती है और एक राक्षस जाति का एक परमिशन भी आता है धन्यवाद

dekhiye bhagwan shriram ke param bhakt mein se sabse pehle aate hain bhagwan shiv shriram samudra tat par dekhkar samudra se marg dene ki pratha kar rahe the toh bhagwan shiv ka unhone yaar itna kiya tha lekin bhagwan shri ram ke bhakt hain uske baad jo hanuman ji se hanuman ji bhi bahut samay se shriram ka intejar kar rahe the vaah bhi bhagwan ram ke bhakt the aur unke ek bhakt ne se mata shabri bhi thi kshatriya shudra jati ki sthiti bhagwan shri ramachandra ke ghar par jaakar unke hath se unke jhuthe ber khate hain bhagwan shiv bhakt ho sakta hai bhagwan ka aur unke antim patra the vibhishan jo ki ek rakshas kul ke the aur ravan ka kshetra tha lekin vibhishan unka pata toh bhagwan ke bhakt hain unmen swayam bhagwan ram ke bhakton mein se pehle toh mahadev aate hain uske baad jo hanuman ji aate hain aur ek shudh mahila shabri aati hai aur ek rakshas jati ka ek permission bhi aata hai dhanyavad

देखिए भगवान श्रीराम के परम भक्त में से सबसे पहले आते हैं भगवान शिव श्रीराम समुद्र तट पर दे

Romanized Version
Likes  12  Dislikes    views  247
WhatsApp_icon
5 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Raghuveer Singh

👤Teacher & Advisor🙏

0:13
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार आपका प्रश्न है श्रीराम का सबसे प्यारा भक्त कौन है तो देखिए श्रीराम का सबसे प्यारा और चाहिता जो भक्त था वह हनुमान था हनुमान सबसे बड़े और सबसे अच्छे भक्त थे भगवान श्री राम की

namaskar aapka prashna hai shriram ka sabse pyara bhakt kaun hai toh dekhiye shriram ka sabse pyara aur chahita jo bhakt tha vaah hanuman tha hanuman sabse bade aur sabse acche bhakt the bhagwan shri ram ki

नमस्कार आपका प्रश्न है श्रीराम का सबसे प्यारा भक्त कौन है तो देखिए श्रीराम का सबसे प्यारा

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  251
WhatsApp_icon
user
0:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दोस्तों का सवाल है श्री राम जी के परम भक्त कौन थे रहता क्या तुम बता दे राम जी के सबसे परम भक्त हनुमान जी थे हनुमान को बहुत मानते थे हनुमान राम जी को अपने पिता और सीता को मां मानते थे

doston ka sawaal hai shri ram ji ke param bhakt kaun the rehta kya tum bata de ram ji ke sabse param bhakt hanuman ji the hanuman ko bahut maante the hanuman ram ji ko apne pita aur sita ko maa maante the

दोस्तों का सवाल है श्री राम जी के परम भक्त कौन थे रहता क्या तुम बता दे राम जी के सबसे परम

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  160
WhatsApp_icon
user
0:08
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

श्री राम का सबसे प्यारा भक्त हनुमान जी है

shri ram ka sabse pyara bhakt hanuman ji hai

श्री राम का सबसे प्यारा भक्त हनुमान जी है

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  133
WhatsApp_icon
user

Shovendra yadav

एग्रीकल्चर

0:05
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

श्रीराम के परम भक्त हनुमान जी थे

shriram ke param bhakt hanuman ji the

श्रीराम के परम भक्त हनुमान जी थे

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  19
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!