एक मुस्लिम महिला के खिलाफ फ़तवा जारी किया गया, जो पुरुषों को फुटबॉल में खेलते हुए (घुटने नहीं ढके होते) देखते हैं, क्योंकि यह इस्लाम के सिद्धांतों का उल्लंघन करता है! यह कैसे हो सकता है?...


user

Ishita Seth

Obstinate Programmer

1:42
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए अभी न्यूज़ आई थी कि एक मुस्लिम महिला के खिलाफ फतवा जारी कर दिया गया है जो कि पुरुषों के फुटबॉल में खेलते हुए देखती हैं क्योंकि उनके जो फुटबॉल वास्तुपुरुष खेलते हैं उनके घुटने लिखते हैं और यह न्यूज़ आई थी कि यह इस्लाम के सिद्धांतों का उल्लंघन है वह औरत कोई भी एक मुस्लिम महिला किसी पुरुष के घुटने नहीं देख सकती ऐसे कमला फुटबॉल खेलते हुए थे हिंदू है आफ्टर मिलाकर एक लड़की है उसे फुटबॉल देखने का सॉन्ग है तो और उसमें अगर उन्होंने फुटबॉल खेलते हुए फूलों के घुटने देख ले तो उसे इतनी बड़ी बात क्या हो गई है इस्लाम के सिद्धांत बीच में कहां से आ जाते हैं यह बिल्कुल फालतू की न्यूज़ थी एक यह जो फतवा जारी किया गया था बिल्कुल फालतू का फतवा था इसमें इतनी बड़ी बात नहीं है कि आप किसी भी बात पर छोटी मोटी बात है जो है मुझे मुस्लिम लोग हैं वह सदाचारी कर देते हैं की पब्लिसिटी चाहिए थी और इसी पब्लिसिटी को पाने के लिए ही फ्रेम और थोड़ा नाम हो जाए इसी नाम को पाने के लिए उन्होंने फतवा जारी कर दिया था जो कि एक भेजो कि मुझे पर्सनली बिल्कुल ही गलत लगा था क्योंकि यह एक बहुत ही छोटी सी बात है आम सेंचुरी में जो हम कनिका सेंचुरी में रह रहे हैं अगर आप इतनी ज्यादा मॉडल हो कर भी हमें छोटी-छोटी बातों पर फतवा जारी करेंगे वह श्रमिक पब्लिसिटी पाने के लिए तो वह बहुत ही ज्यादा गलत है

dekhiye abhi news I thi ki ek muslim mahila ke khilaf fatwa jaari kar diya gaya hai jo ki purushon ke football mein khelte hue dekhti hain kyonki unke jo football vastupurush khelte hain unke ghutne likhte hain aur yah news I thi ki yah islam ke siddhanto ka ullanghan hai vaah aurat koi bhi ek muslim mahila kisi purush ke ghutne nahi dekh sakti aise kamla football khelte hue the hindu hai after milakar ek ladki hai use football dekhne ka song hai toh aur usme agar unhone football khelte hue fulo ke ghutne dekh le toh use itni badi baat kya ho gayi hai islam ke siddhant beech mein kahaan se aa jaate hain yah bilkul faltu ki news thi ek yah jo fatwa jaari kiya gaya tha bilkul faltu ka fatwa tha isme itni badi baat nahi hai ki aap kisi bhi baat par choti moti baat hai jo hai mujhe muslim log hain vaah sadachari kar dete hain ki publicity chahiye thi aur isi publicity ko paane ke liye hi frame aur thoda naam ho jaaye isi naam ko paane ke liye unhone fatwa jaari kar diya tha jo ki ek bhejo ki mujhe personally bilkul hi galat laga tha kyonki yah ek bahut hi choti si baat hai aam century mein jo hum kanika century mein reh rahe hain agar aap itni zyada model ho kar bhi hamein choti choti baaton par fatwa jaari karenge vaah shramik publicity paane ke liye toh vaah bahut hi zyada galat hai

देखिए अभी न्यूज़ आई थी कि एक मुस्लिम महिला के खिलाफ फतवा जारी कर दिया गया है जो कि पुरुषों

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  175
KooApp_icon
WhatsApp_icon
4 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!