नास्तिक लोग अपराधियों होने की कितनी संभावना है? कृपया अपने उत्तर को सही ठहराएँ ..?...


user
3:26
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सबसे पहले तो आपको यह बात समझ लेनी चाहिए कि नास्तिक इंसान कौन होते हैं या कैसे होते हैं उनकी विचारधारा कैसी होती है और वह लोग नास्तिक क्यों बने लोग नास्तिक होने पर यह न सोचे कि वह इंसान गलत है या प्रोग्राम कर सकता है या फिर उन लोगों के अपराधी होने की संभावना जाता है नास्तिक इंसान बनना बहुत कठिन काम है क्योंकि नास्तिक इंसान तर्क बुद्धि के साथ अपनी जान को बढ़ाता है और हर प्रश्न जवाब का उत्तर देना वह जानता है हर धर्म और ईश्वर और जो मान्यताएं हैं उनके को गलत है रहता है वह है जो आडंबर पाखंड जैसी जो चीजें होती हैं उनको गलत मानता है इसलिए वह नाचते कहलाता है और नास्तिक बन्ना मेरे हिसाब से बहुत ही कठिन काम है क्योंकि हर इंसान अपने आप को नास्तिक नहीं बोल सकता है क्योंकि नास्तिक होने के लिए बहुत ही ज्ञान की जरूरत होती है उसको बहुत कुछ पढ़ना पड़ता है हर विषय में जानना पड़ता है और हर इंसान के जवाब का उसको उत्तर देना होता है और मेरे ख्याल से तो नास्तिक लोग बहुत ही अच्छे होते हैं और उनकी अपराधी होने की संभावनाएं बहुत कम होती है हम अभी तक देखते आए हैं कि जितने धार्मिक लोग हैं वह अपना चेहरा तो धार्मिकता जैसे दिखाते हैं लेकिन अंदर से वह कुछ और होते हैं कोई भी धर्म का कोई भी इंसान जो धार्मिक है किसी भी धर्म का हो वह दूसरे धर्म की बुराई करता है दूसरे धर्म को गलत ठहरा था तो किसी चीज को किसी धर्म या किसी इंसान मतलबी इंसान को गलत ठहराना ठीक नहीं होता है और गलत नहीं होता है वैसे तो धार्मिकता में जो कट्टरता रहती है उसके कारण अपराध सबसे ज्यादा होते हैं अधिकतर जो धार्मिक के कट्टरवादी लोग होते हैं अपराध को सबसे ज्यादा करते हैं

sabse pehle toh aapko yah baat samajh leni chahiye ki nastik insaan kaun hote hain ya kaise hote hain unki vichardhara kaisi hoti hai aur vaah log nastik kyon bane log nastik hone par yah na soche ki vaah insaan galat hai ya program kar sakta hai ya phir un logo ke apradhi hone ki sambhavna jata hai nastik insaan banna bahut kathin kaam hai kyonki nastik insaan tark buddhi ke saath apni jaan ko badhata hai aur har prashna jawab ka uttar dena vaah jaanta hai har dharm aur ishwar aur jo manyatae hain unke ko galat hai rehta hai vaah hai jo aandabar pakhand jaisi jo cheezen hoti hain unko galat maanta hai isliye vaah naachte kehlata hai aur nastik banna mere hisab se bahut hi kathin kaam hai kyonki har insaan apne aap ko nastik nahi bol sakta hai kyonki nastik hone ke liye bahut hi gyaan ki zarurat hoti hai usko bahut kuch padhna padta hai har vishay me janana padta hai aur har insaan ke jawab ka usko uttar dena hota hai aur mere khayal se toh nastik log bahut hi acche hote hain aur unki apradhi hone ki sambhavnayen bahut kam hoti hai hum abhi tak dekhte aaye hain ki jitne dharmik log hain vaah apna chehra toh dharmikata jaise dikhate hain lekin andar se vaah kuch aur hote hain koi bhi dharm ka koi bhi insaan jo dharmik hai kisi bhi dharm ka ho vaah dusre dharm ki burayi karta hai dusre dharm ko galat thahara tha toh kisi cheez ko kisi dharm ya kisi insaan matlabi insaan ko galat thahrana theek nahi hota hai aur galat nahi hota hai waise toh dharmikata me jo kattartaa rehti hai uske karan apradh sabse zyada hote hain adhiktar jo dharmik ke kattaravadi log hote hain apradh ko sabse zyada karte hain

सबसे पहले तो आपको यह बात समझ लेनी चाहिए कि नास्तिक इंसान कौन होते हैं या कैसे होते हैं उनक

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  63
KooApp_icon
WhatsApp_icon
6 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!