सुप्रीम कोर्ट ने महाराष्ट्र सरकार को याचिकाकर्ताओं को लॉया की रिपोर्ट देने का निर्देश दिया है, अब आगे क्या हो सकता है?...


play
user

Jyoti Mehta

Ex-History Teacher

1:39

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सुप्रीम कोर्ट ने महाराष्ट्र सरकार को याचिकाकर्ताओं की Loha की रिपोर्ट देने का निर्देश दिया है सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि किस सीबीआई की विशेष जलाया की मौत किन परिस्थितियों में हुई है इसका सभी को पता होना चाहिए सुप्रीम कोर्ट के आदेशानुसार दस्तावेज 7 दिन के अंदर पर हो जाना चाहिए अगर इन्हें उचित माना गया तो इसकी प्रतियां याचिकाकर्ता को दी जाएगी तथा अनुचित बेंच के समक्ष पेश किया जाएगा महाराष्ट्र सरकार ने एक तीली बंद लिफाफे में जज लोहिया की मेडिकल रिपोर्ट को में छुपी है जिनकी मौत 2014 में हो गई थी इसके बाद महाराष्ट्र के वकील ने कहा कि वरिष्ठ अधिवक्ता सालवी सहित हमारे वकीलों की टीम संबंधित विभागों की सहायता से इन दस्तावेजों को स्क्रीन वह सत्यापित करेगी इसके बाद ही इन्हें देने के बारे में फैसला लिया जाएगा इससे पहले पीठ ने महाराष्ट्र सरकार की ओर से पेश वरिष्ठ वकील हरीश साल्वे से रिपोर्ट की प्रति पंजाबी का करता हूं कि देने के बारे में कहा था इस पर साल्वे ने कहा था कि याचिकाकर्ताओं द्वारा यह सुनिश्चित किया जाना चाहिए कि रिपोर्ट सार्वजनिक ना हो इसका कहना है सभी लोगों को सभी चीजें मालूम होनी चाहिए आखिर इसमें गोपनीय क्या है pk सालवी से कहा है कि वह रिपोर्ट में उन बातों को चिन्हित करें जिन्हें सार्वजनिक नहीं करना है क्या करता हूं कि और के वकीलों ने पी को आश्वस्त किया है कि रिपोर्ट सार्वजनिक नहीं होगी याचिकाओं में जस्ट लोहिया की मौत की निष्पक्ष जांच की गुहार लगाई गई है

supreme court ne maharashtra sarkar ko yaachikaakartaon ki Loha ki report dene ka nirdesh diya hai supreme court ne kaha hai ki kis cbi ki vishesh jalaya ki maut kin paristhitiyon mein hui hai iska sabhi ko pata hona chahiye supreme court ke adeshanusar dastavej 7 din ke andar par ho jana chahiye agar inhen uchit mana gaya toh iski pratiyan yachikakarta ko di jayegi tatha anuchit bench ke samaksh pesh kiya jaega maharashtra sarkar ne ek tili band lifafe mein judge lohiya ki medical report ko mein chhupee hai jinki maut 2014 mein ho gayi thi iske baad maharashtra ke vakil ne kaha ki varishtha adhivakta salvi sahit hamare vakilon ki team sambandhit vibhagon ki sahayta se in dastawejon ko screen vaah satyapit karegi iske baad hi inhen dene ke bare mein faisla liya jaega isse pehle peeth ne maharashtra sarkar ki aur se pesh varishtha vakil harish salwe se report ki prati punjabi ka karta hoon ki dene ke bare mein kaha tha is par salwe ne kaha tha ki yaachikaakartaon dwara yah sunishchit kiya jana chahiye ki report sarvajanik na ho iska kehna hai sabhi logo ko sabhi cheezen maloom honi chahiye aakhir isme gopaniya kya hai pk salvi se kaha hai ki vaah report mein un baaton ko chinhit kare jinhen sarvajanik nahi karna hai kya karta hoon ki aur ke vakilon ne p ko aashvast kiya hai ki report sarvajanik nahi hogi yachikaon mein just lohiya ki maut ki nishpaksh jaanch ki guhar lagayi gayi hai

सुप्रीम कोर्ट ने महाराष्ट्र सरकार को याचिकाकर्ताओं की Loha की रिपोर्ट देने का निर्देश दिया

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  149
KooApp_icon
WhatsApp_icon
2 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!