नरेंद्र मोदी कौन है और उसने कब चाय बेचीं थी?...


play
user

Daulat Ram Sharma Shastri

Psychologist | Ex-Senior Teacher

3:03

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह हमारा भारत ऐसा भारत है या आलोचक लोग कुछ भी भेज सरकार की बातें कर सकते हैं नंबर दे नंबर दो हमारे भारत में प्राया और पार्टी लोगों का अक्स लोगों का योगदान रहता है कि दूसरों को बोलते हैं उसकी बेटी को ढूंढते हैं और जिसे उठता है उसको सुंदर हरे-भरे उद्यान में छोड़ दो तो वहां जाकर की सुंदरता नहीं देखेगा ना बाद में उस माली के परिश्रम को देखेगा जिसने बड़ी सुंदरता के साथ बड़ी योजना के साथ खुद्दार चरणों को खींचा है लगाया है या फूलदार पौधे लगाए हैं सुंदर बनाए सुंदरता को नहीं देखता है तो वह खाने के लिए कटीली झाड़ियां होता है ठीक इसी प्रकार हमारी गंदी मानसिकता हुई है कि हम राजनीतिक विरोध करते करते इतने स्तर से जुड़ चुके हैं कि हम एक दूसरे के बारे में एंड सन बोलते रहते हैं पासवर्ड आते रहते हैं या उसके उसमें दूषण लगाते रहते हैं या उसके तो ढूंढते रहते हैं आदरणीय नरेंद्र मोदी जी ने कभी हो सकता है चाहे बिजी हो लेकिन यह तो को बड़े गर्व की बात है कि एक बॉटम से इतनी मेहनत की उस व्यक्ति ने बॉटमशीट पीएम बना यह सारा न करने योग्य है दूसरा फिर आप बीजेपी का बीजेपी में आर एस एस से हर आदमी को आगे नहीं बढ़ाया जाता है आर एस एस सी खुसी वफादार व्यक्ति को आगे बढ़ाया जाता है क्योंकि मैं r.s.s. में रहा हूं उसी व्यक्ति को आगे बढ़ाते हैं जिसकी वफादारी आ रही होती है जो पार्टी के समर्पित रहा होता है इस व्यक्ति ने यह देखिए इस व्यक्ति ने पार्टी के लिए चरित के लिए जनसेवा के लिए अपने परिवार तक का त्याग कर दिया ऐसे आदरणीय मोदी जी के बारे में यह लोग विपक्ष के लोग कैसे बढ़ाते हैं बाकी मेरे विचार से यह विकास सोचना गलत है इस कोई उन्नति कर रहा है और योग्य अरे कम से कम शर्म करो उन पाकिस्तानियों से तो अच्छे हैं एक भारतीय हैं कौन हो सकता है तुम्हारे विरोधी हूं लेकिन तुम जो राक्षसों के जले जाकर मिलते हो उनके पैर पूजते हो पाकिस्तानियों पर जा करके उनके चरणों में ठोक देते हो तो क्या तुम्हें शर्म नहीं आती तुम और एक भारतीय व्यक्ति है हो सकता है कुछ मोदी विरोधी पार्टी का है लेकिन उसके बारे में इस तरह की बातें उड़ाते हो कहते हो अरे कुछ तो फील करो भारत माता के सपूत हो कम से कम आदर करो ऐसे व्यक्ति का जिसने देश के लिए सब कुछ समर्पित किया है वह देश के लिए अपनी निष्ठा से काम कर रहे हैं मैं उनका अभिनंदन करता हूं नंबर खुले मंच करता हूं धन्यवाद है हमें

yah hamara bharat aisa bharat hai ya aalochak log kuch bhi bhej sarkar ki batein kar sakte hain number de number do hamare bharat mein praya aur party logo ka acc logo ka yogdan rehta hai ki dusro ko bolte hain uski beti ko dhoondhate hain aur jise uthata hai usko sundar hare bhare udyan mein chod do toh wahan jaakar ki sundarta nahi dekhega na baad mein us maali ke parishram ko dekhega jisne badi sundarta ke saath badi yojana ke saath khuddar charno ko khicha hai lagaya hai ya fuldar paudhe lagaye hain sundar banaye sundarta ko nahi dekhta hai toh vaah khane ke liye katili jhadiyan hota hai theek isi prakar hamari gandi mansikta hui hai ki hum raajnitik virodh karte karte itne sthar se jud chuke hain ki hum ek dusre ke bare mein and san bolte rehte hain password aate rehte hain ya uske usme dushan lagate rehte hain ya uske toh dhoondhate rehte hain adaraniya narendra modi ji ne kabhi ho sakta hai chahen busy ho lekin yah toh ko bade garv ki baat hai ki ek bottom se itni mehnat ki us vyakti ne batamashit pm bana yah saara na karne yogya hai doosra phir aap bjp ka bjp mein R s s se har aadmi ko aage nahi badhaya jata hai R s s si khusi vafaadar vyakti ko aage badhaya jata hai kyonki main r s s mein raha hoon usi vyakti ko aage badhate hain jiski wafadaaree aa rahi hoti hai jo party ke samarpit raha hota hai is vyakti ne yah dekhiye is vyakti ne party ke liye charit ke liye jansewa ke liye apne parivar tak ka tyag kar diya aise adaraniya modi ji ke bare mein yah log vipaksh ke log kaise badhate hain baki mere vichar se yah vikas sochna galat hai is koi unnati kar raha hai aur yogya are kam se kam sharm karo un pakistaniyon se toh acche hain ek bharatiya hain kaun ho sakta hai tumhare virodhi hoon lekin tum jo rakshason ke jale jaakar milte ho unke pair pujte ho pakistaniyon par ja karke unke charno mein thok dete ho toh kya tumhe sharm nahi aati tum aur ek bharatiya vyakti hai ho sakta hai kuch modi virodhi party ka hai lekin uske bare mein is tarah ki batein udte ho kehte ho are kuch toh feel karo bharat mata ke sapoot ho kam se kam aadar karo aise vyakti ka jisne desh ke liye sab kuch samarpit kiya hai vaah desh ke liye apni nishtha se kaam kar rahe hain main unka abhinandan karta hoon number khule manch karta hoon dhanyavad hai hamein

यह हमारा भारत ऐसा भारत है या आलोचक लोग कुछ भी भेज सरकार की बातें कर सकते हैं नंबर दे नंबर

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  5
KooApp_icon
WhatsApp_icon
3 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!